What is Maharashtra day?: महाराष्ट्र दिवस क्या है? (day celebration)

What is Maharashtra day?: महाराष्ट्र दिवस क्या है ?, 1 मई को महाराष्ट्र दिवस क्यों मानते है?:Why do we celebrate Maharashtra Day on 1 May? 1 मई का इतिहास क्या है?:What is the history of 1 May?

नमस्कार दोस्तों, इस लेख के माध्यम से 1 मई को  महाराष्ट्र दिवस क्यों मनाया जाता है और इस दिन की कुछ घटनाओं को नोट किया गया है. यदि आप किसी प्रतियोगी परीक्षा के लिए तैयार हैं और आप बहुत मेहनत कर रहे हैं लेकिन आपको थोड़ी और मेहनत करनी होगी क्योंकि आप सफलता तक पहुँच चुके हैं, तो आपको अब निराश होने की आवश्यकता नहीं है. आप अध्ययन करते रहें, प्रतियोगीता  परीक्षा देते रहें, और बहुत जल्द आपको वही मिलेगा जो आपने देखा है. उसी इच्छाओं के साथ, महाराष्ट्र दिन और कामगार दिन की सुभकामनएं… Mesothelioma Law Firm Maharashtra day

What is Maharashtra day?: महाराष्ट्र दिवस क्या है ?

Donate Car to Charity California

1 मई की जानकारी : May 1 in formation

1 मई को महाराष्ट्र दिवस के रूप में घोषित किया गया है और इस दिन स्कूल में झंडा वंदन किया जाता है. लेकिन हम महाराष्ट्र दिवस को 1 मई क्यों मानते हैं? यह सवाल आपके दिमाग में आया होगा कि इस दिन क्या हुआ था. तो आइए जानते हैं कि हम 1 मई को क्यों मानते हैं. How to Donate A Car in CaliforniaDonate Car for Tax Credit

यह भी पढ़े :

महाराष्ट्र दिन क्यों मनाया जाता है ?

महाराष्ट्र राज्य के गठन से पहले, हमारे राज्य को मुंबई प्रांत के रूप में जाना जाता था. इस प्रांत में पश्चिमी महाराष्ट्र, कोंकण और गुजरात के वर्तमान राज्य शामिल थे.वर्तमान मराठवाड़ा में हैदराबाद राज्य और विदर्भ मध्य प्रांत में शामिल था. 1935 के नियमों के तहत, प्रांत को स्वायत्तता दी गई थी. मुंबई प्रान्त के प्रथम मुख्यमंत्री बाळासाहेब खेर थे. स्वतंत्रता के बाद का पहला चुनाव 1952 में हुआ और मोरारजी देसाई मुंबई प्रांत के दूसरे मुख्यमंत्री बने. 13 मई 1946 के बेळगाव में आयोजित साहित्य सम्मेलन के ललित विभाग के अध्यक्ष ग.त्र्य. माडखोलकर ने अपने भाषण में, संयुक्त महाराष्ट्र की मांग की. संयुक्त महाराष्ट्र में  मुंबई, मध्यप्रांत,‌‍  व-हाड, मराठवाड़ा, गोमंतक आदि की मांग की और महाराष्ट्र राज्य निर्माण के लिए सुरवात हुई. Maharashtra day

दिसंबर 1953 में भारत सरकारने भाषावार प्रान्त रचना करने के उद्देश से ” फाजल अली राज्य पुनर्रचना ” आयोग की स्थापना की गई. इस आयोग ने मुंबई प्रान्त के लिए द्वैभाषिक तत्व मान्य किए गए और मराठवाड़ा, मुंबई प्रान्त व गुजरात भाषिक सौराष्ट्र का समावेश करके द्विभाषिक राज्य निर्माण करना चाहिए ऐसी शिफारिश की गई. इस शिफारिश के बाद आंदोलन चालू हुवा इस में 108 लोगों ने अपनी जान गवाई. केंद्र सरकार ने 9 सदस्य समिति का गठन करके संसद में शिफारिश की उसके बाद संसद ने 1 मई, 1960 को महाराष्ट्र राज्य की घोषणा की  इस तरह से महाराष्ट्र राज्य का निर्माण 1 मई, 1960 को हुआ इसलिए 1 मई  यह दिन ” महाराष्ट्र दिन ” करके मनाया जाता है. Donate Cars in MA

यह भी पढ़े:

महाराष्ट्र विशेष

  • महाराष्ट्र राज्य की स्थापना : 1 मई 1960
  • राजधानी : मुंबई  Maharashtra day
  • उपराजधानी : नागपुर
  • क्षेत्रफल : 3,07,713 चौ. कि.मी.
  • अक्षांश विस्तार : 15 अंश 44 उत्तर ते 22 अंश 6 उत्तर अक्षांश
  • रेखांश विस्तार : 72अंश 36 पूर्व ते 80 अंश 54 पूर्व रेखांश
  • पूर्व – पश्चिम लंबाई : 800 कि.मी.
  • दक्षिण-उत्तर की चौड़ाई‌ : 700 कि.मी
  • वायव्य में गुजरात
  • उत्तर में मध्यप्रदेश
  • पूरब में छत्तीसगढ़
  • आग्नेय में तेलंगाना
  • दक्षिण में कर्नाटक
  • नैऋत्य में गोवा
  • समुद्रकिनारपट्टी : 720 कि.मी
  • विधानसभा सदस्य संख्या : 288
  • विधान परिषद सदस्य संख्या : 78
  • प्रशासकीय विभाग : 6
  • कुल जिले : 36
  • उपविभाग : 182
  • कुल तालुका : 355
  • जिला परिषद : 34
  • पंचायत समिति : 351
  • नगरपालिका : 219
  • कड़कमण्डल : 7
  • महानगरपालिका : 26
  • शहर : 534
  • ग्रामपंचायत :  27, 873

यह भी पढ़े : Donate Your Car Sacramento

महाराष्ट्र राज्य पर स्पर्धा परीक्षा में अक्सर पूछे जानेवाले प्रश्न जरूर पढ़े : 
  • महाराष्ट्र का राज्य फल क्या है ?- : आम्ब
  • फूल:- मोठा बोंडारा अथवा तमान
  • महाराष्ट्र का राज्य पक्षी क्या है ?- : हरावत
  • महाराष्ट्र का राज्य प्राणी क्या है ?-: शेकरू
  • राज्य फुलपाखरु :- ब्ल्यू मॉरमॉन
  • महाराष्ट्र की राज्य भाषा  क्या है-: मराठी
मराठवाड़ा अर्थात क्या है ?
  • औरंगाबाद, परभणी और नांदेड़ के मध्य महाराष्ट्र के गोदावरी खोरे को ” मराठवाड़ा ” नाम से जानते है. मराठवाड़ा में औरंगाबाद, जालना, बीड, परभणी, लातूर, उस्मानाबाद, नांदेड़, हिंगोली ऐसे 8 जिले का समावेश होता है.
कोकण अर्थात क्या है?
  • कोंकण सह्याद्री पर्वत और अरब सागर के बीच संकीर्ण समुद्र तट को दिया गया नाम है. कोकण में मुंबई, मुंबई उपनगर, रायगढ़, ठाणे, रत्नागिरी, सिंधुदुर्ग और पालघर ऎसे 7 जिले का समावेश है.
पश्चिम महाराष्ट्र अर्थात क्या है?
  • पुणे, सतारा, सांगली, कोल्हापुर, सोलापुर, नाशिक , अहमदनगर ऎसे 7 जिले और सह्यांंद्रि पर्वत का पूरब का भाग पश्चिम महाराष्ट्र के नाम से जानते है.
खान्देश अर्थात क्या है?
  • धुले, जळगाव, नंदुरबार यह तीन जिले और तापी-पूर्णा नदी का भाग खान्देश के नाम से पहचानते है.
महाराष्ट्र राज्य के निर्माण के समय कितने जिले थे ?
  •  26 जिले
महाराष्ट्र में वर्तमान में कितने जिले है ?
महाराष्ट्र में प्रशासकीय विभाग कितने और क्या नाम है?
  • प्रशासकीय विभाग – 6
  • प्रशासकीय विभाग के नाम – 1. कोकण, 2. पुणे, 3. नाशिक, 4. अमरावती, 5. नागपुर, 6. औरंगाबाद
कोकण प्रशासकीय विभाग में कितने जिले और जिले के नाम क्या है ?
  • 7 जिले का समावेश है. 1. मुंबई, 2 मुंबई उपनगर, 3 रायगढ़, 4 ठाणे, 5 रत्नागिरी, 6 सिंधुदुर्ग, 7 पालघर
पुणे प्रशाशकीय विभाग में कितने जिले और नाम क्या है ?
  • 5 जिले का समावेश है. 1. पुणे , 2. सांगली, 3. सतारा, 4. कोल्हापुर, 5. सोलापुर.
अमरावती प्रशाशकीय विभाग में कितने जिले और नाम क्या है ?
  • 5 जिले का समावेश है. 1. अमरावती, 2. बुलढाणा, 3. अकोला, 4. वशीम, 5.यवतमाळ .
नागपुर प्रशाशकीय विभाग में कितने जिले और नाम क्या है ?
  • 6 जिले का समावेश है. 1. नागपुर, 2 भंडारा, 3 गोंदिया, 4गडचिरोली, 5 वर्धा, 6 चंद्रपुर,
औरंगाबाद प्रशाशकीय विभाग में कितने जिले और नाम क्या है ?
  • 8 जिले का समावेश है. 1. औरंगाबाद, 2 जालना, 3 बीड, 4 परभणी, 5 लातूर, 6 उस्मानाबाद, 7 नांदेड़, 8. हिंगोली
रत्नागिरी जिले को विभाजित करने वाले जिले का नाम क्या है और यह कब हुआ?
  • सिंधुदुर्ग जिला 1 मई 1981 को रत्नागिरी जिले को विभाजित करके बनाया गया था.
औरंगाबाद जिले को विभाजित करने वाले जिले का नाम क्या है और यह कब हुआ?
  • जलना जिला 1 मई 1981 को औरंगाबाद जिले को विभाजित करके बनाया गया था.
कुलाबा जिले का नाम कब बदला गया और क्या रखा गया है?
  • 1 जनवरी 1981 को कुलाबा जिले का नाम बदलकर रायगढ़ रखा गया
चंद्रपुर जिले को विभाजित करने वाले जिले का नाम क्या है और यह कब हुआ?
  • गडचिरोली जिला 26 अगस्त 1982 को चंद्रपुर जिले को विभाजित करके बनाया गया था.
उस्मानाबाद जिले को विभाजित करने वाले जिले का नाम क्या है और यह कब हुआ?
  • लातूर जिला 16 अगस्त 1982 को उस्मानाबाद जिले को विभाजित करके बनाया गया था.
धुळे जिले को विभाजित करने वाले जिले का नाम क्या है और यह कब हुआ?
  • नंदुरबार  जिला 1 जुलाई 1998 को धुळे जिले को विभाजित करके बनाया गया था.
मुंबई जिले को विभाजित करने वाले जिले का नाम क्या है और यह कब हुआ?
  • उपनगर मुंबई  जिला 4 जुलाई 1990 को मुंबई जिले को विभाजित करके बनाया गया था
अकोला जिले को विभाजित करने वाले जिले का नाम क्या है और यह कब हुआ?
  • वाशिम जिला 1 जुलाई 1998 को अकोला जिले को विभाजित करके बनाया गया था
भंडारा जिले को विभाजित करने वाले जिले का नाम क्या है और यह कब हुआ?
  • गोंदिया जिला 1 मई 1999 को भंडारा जिले को विभाजित करके बनाया गया था
परभणी जिले को विभाजित करने वाले जिले का नाम क्या है और यह कब हुआ?
  •  हिंगोली जिला 1 मई 1999 को परभणी जिले को विभाजित करके बनाया गया था.
ठाणे जिले को विभाजित करने वाले जिले का नाम क्या है और यह कब हुआ?
  • पालघर जिला 1 अगस्त 2014 को ठाणे जिले को विभाजित करके बनाया गया था

यह भी पढ़े … 

Postscript: 

Post Name: What is Maharashtra day?: महाराष्ट्र दिवस क्या है?

Description: 1 मई क्यों मनाते है. 1 मई के दिन घटित घटनाओं की जानकारी दी गई है. इस लेख में मई माह की 1 तारीख से लेकर 30 तारिक तक के घटनाओं की GK जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे. GK जानकारी हमारे लिए महाराष्ट्र लोगसेवा आयोग (MPSC) बैंकिंग, तलाठी, पुलिस भर्ती, ग्रामसेवक, रेलवे भर्ती, ग्रामसेवक आदि exam के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण साबित हो सकती है.

Author: शीतल

Leave a Reply

error: Content is protected !!