How to make future in ITI:आईटीआई में भविष्य कैसे बनाएं

आईटीआई में भविष्य कैसे बनाएं:How to make future in ITI, ITI me Employment/career opportunities , Industrial Training kaise kare, kya hai?

8 वीं, 10 वीं और 12 वीं पास करने के बाद छात्र के पास करियर के कई विकल्प होते हैं. इनमें से एक कैरियर विकल्प आईटीआई है. अगर आप भी सरकारी नौकरी करना चाहते हैं तो आईटीआई कोर्स करें. क्योंकि आईटीआई प्रमाणपत्र धारकों के लिए बड़ी संख्या में सरकारी नौकरियां उत्पन्न होती हैं, तो चलिए पढ़ते है आईटीआई में भविष्य कैसे बनाएं (How to make future in ITI) L

How to make future/career in ITI आईटीआई में भविष्य कैसे बनाएं

आई.टी.आई के संदर्भ में निम्नलिखित मुद्दों का विश्लेषण : 

  •  प्रस्तावना
  • आईटीआई की स्थापना
  • आईटीआई फुल फॉर्म
  • आई.टी.आई की परिभाषा
  • आई टी आई क्या है?
  • आई.टी.आई के इन्स्टिट्यूट
  • आई.टी.आई व्यवसाय की जानकारी
  • 12 वीं पास ट्रेड
  • 10 वी पास ट्रेड
  • 8वी पास
  • शैक्षणिक योग्यता
  • कोर्स की अवधि
  • आईटीआई पाठ्यक्रमों के लिए आयु सीमा
  • आयु में छूट
  • निजी आईटीआई पाठ्यक्रम शुल्क
  • सरकारी आईटीआई पाठ्यक्रम शुल्क
  • आईटीआई ऑनलाइन आवेदन पत्र कैसे भरें
  • आईटीआई आवेदन के लिए दस्तावेज
  • ऑनलाइन ट्रेड कैसे देखे ?
  • आईटीआई परीक्षा और प्रमाण पत्र
  • कैसे देखें आईटीआई सेमेस्टर और वार्षिक परिणाम
  • भारत में आईटीआई पास उम्मीदवारों के लिए प्रमुख नौकरी की भर्ती Dallas Mesothelioma Attorneys

यह भी पढ़े :

आईटीआई पाठ्यक्रम औद्योगिक क्षेत्र की नींव को मजबूत करने का काम करता है. यह एक अधिक लोकप्रिय कोर्स है. इस कोर्स की फीस बहुत कम है और इसकी अवधि बहुत कम समय में पूरी की जा सकती है. व्यवसाय का चयन आईटीआई पाठ्यक्रम के लिए प्रतिशत के अनुसार किया जाता है.

10 वीं और 12 वीं पास करने के बाद पालक वर्ग आगे की प्लानिक करते है की, किस क्षेत्र का चुनाव करना चाहिए जिस क्षेत्र में डिप्लोमा, डिग्री प्राप्त करके सरकारी या निजी नौकरी मिलने के विकल्प होने चाहिए. ITI एक ऎसा क्षेत्र है की पूरा करने के बाद जॉब मिलने के विकल्प अधिक रहते है.

यदि किसी छात्र के पास इंजीनियर एमबीबीएस, एलएलबी, के लिए मजबूत वित्तीय स्थिति नहीं है. या अगर आप कम समय में नौकरी चाहते हैं, तो आप आईटीआई करके अपना भविष्य बना सकते हैं.

आईटीआई के बारे में  सवाल के जवाब :

10 वीं पास करने के बाद, छात्रों के दिमाग में यही विचार चलता रहता है कि किस क्षेत्र को चुना जाए, क्षेत्र के अनुसार नौकरी के विकल्प भी उपलब्ध होंगे. ऐसा प्रश्न हमेशा छात्र द्वारा पूछा जाता है.

10 वीं पास करने के बाद, आईटीआई में प्रवेश लेना चाहिए क्योंकि नौकरी के विकल्प बहुत अधिक रहते हैं. यदि आप 10 वीं पास करते हैं और 2 साल का आईटीआई कोर्स पूरा करते हैं, तो नौकरी की संभावना अधिक होती है.

दिन प्रति दिन लोगों की शिक्षा के प्रति जागरूकता बढ़ी है, अब हर कोई शिक्षित होना चाहता है क्योंकि वे जानते हैं कि अच्छी नौकरियों के लिए शिक्षित होना बहुत महत्वपूर्ण है. दूसरी ओर, जब अधिकांश छात्र 10 वीं या 12 वीं की पढ़ाई चालू रहती हैं, तब उनके दिमाग में इस तरह के सवाल आते रहते हैं कि 10 वीं या 12 वीं पूरी करने के बाद कौन सा व्यावसायिक कोर्स करना चाहिए जिसमें बेहतर करियर विकल्प उपलब्ध हों …

कई बार छात्र इंजीनियर बनना चाहते हैं, लेकिन कोर्स करने के लिए उनके पास वित्त नहीं होता है. ऐसी स्थिति में, छात्र औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (आईटीआई) के माध्यम से तकनीकी शिक्षा प्राप्त करके अपना करियर बना सकते हैं. इतना ही नहीं, कार्य अनुभव के साथ, वे इंजीनियरिंग के पारंपरिक पाठ्यक्रमों में भी प्रवेश ले सकते हैं.

आईटीआई के बाद ….

यदि आप उन छात्रों में से हैं जो अपने पैरों पर खड़े होना चाहते हैं और जल्द से जल्द काम पूरा करना चाहते हैं, तो आप आईटीआई चुन सकते हैं. आईटीआई यानी औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान.

आईटीआई से कोर्स करने के बाद, जहां आप सरकारी या निजी क्षेत्र में नौकरी पाने में सक्षम होंगे, तो आप अपना खुद का व्यवसाय या छोटा काम शुरू कर सकते हैं. आईटीआई प्रमाणपत्र धारकों के लिए बड़ी संख्या में सरकारी नौकरियां भी उत्पन्न होती हैं.

आपने अक्सर देखा होगा कि कई सरकारी नौकरियों में ITI सर्टिफिकेट मांगा जाता है. यदि आप यह कोर्स करते हैं, तो आप आसानी से सरकारी नौकरी में आवेदन कर सकते हैं.

हालांकि कोई भी इस कोर्स को कर सकता है, लेकिन यह विशेष रूप से उन लोगों के लिए बनाया गया है जो जल्द ही नौकरी पाना चाहते हैं.जानें कि आप इस कोर्स को कैसे कर सकते हैं.

विशेषज्ञों के अनुसार, आईटीआई के बाद भी आप बेहतर करियर बना सकते हैं. बढ़ते औद्योगीकरण के कारण यह पाठ्यक्रम काफी लोकप्रिय है. यही वजह है कि केंद्र सरकार भी इस कोर्स को बढ़ावा देने की कोशिश कर रही है. मुझे पता है कि आप ITI करके अपने करियर को कैसे प्रबंधित कर सकते हैं.

यह भी पढ़े : 

 आईटीआई की स्थापना : I.T.I Establishment

  • क्राफ्ट्समेन ट्रेनिंग स्कीम के अंतर्गत 1950 में औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों (आईटीआई) की स्थापना की गई थी.

आईटीआई फुल फॉर्म : I.T.I full form

  • ”औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान” (Industrial Training Institute)

आई.टी.आई की परिभाषा : Definition of I.T.I.

जब आप एक आईटीआई कोर्स करते हैं, तो आपको एक प्रकार का तकनीकी ज्ञान दिया जाता है, एक प्रकार का प्रशिक्षण दिया जाता है. किसी भी सरकारी या निजी नौकरी में होने वाले सभी कार्यों का प्रशिक्षण आपको आईटीआई पाठ्यक्रम में दिया जाता है और इसी कारण से इसे औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान कहा जाता है.

भारत में औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान भारत सरकार के श्रम और रोजगार मंत्रालय के तहत चलने वाले प्रशिक्षण संस्थान हैं, जिनमें प्रशिक्षुओं को तकनीकी कार्य में प्रशिक्षित किया जाता है.

कंपनी को व्यावहारिक कौशल वाले लोगों की आवश्यकता होती है. जैसा कि हमने बताया कि आईटीआई का मतलब है औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान. इस पाठ्यक्रम में, आप उद्योगों में काम करने के लिए तैयार हैं. मतलब उद्योगों या कंपनियों में काम करने के लिए आवश्यक कौशल आपको ITI में सिखाया जाता है.

आईटीआई क्या है?
  • आपको बता दें कि आईटीआई कोई डिग्री नहीं है. बल्कि यह सिर्फ एक सर्टिफिकेशन कोर्स है. यह पाठ्यक्रम रोजगार और प्रशिक्षण महानिदेशालय (DGET-directorate General of Employment & Training) के तहत संचालित किया जाता है.
  • राज्य लेवल (State level) का पाठ्यक्रम पूरा करने के बाद SCVT  (State Council for Vocational Training) का certificate मिलता है.
  • राष्ट्रीय स्तर (National level) लेवल का पाठ्यक्रम पूरा करने के बाद NCVT (National Council for Vocational Training) का certificate मिलता है.
  • यदि संभव हो, तो NCVT को प्राथमिकता दी जानी चाहिए, क्योंकि SCVT प्रमाणपत्र केवल राज्य तक ही सीमित हैं. Home Phone nternet Bundle
आई टी आई क्या है? | What is I.TI.?

ITI का पूरा नाम औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (Industrial Training Institute) है. यह एक प्रकार का इंडस्ट्रियलकोर्स है, निश्चित रूप से, औद्योगिक क्षेत्र से संबंधित है. इस कोर्स की यह खासियत है, कि आठवीं, दसवीं और बारहवीं तक के छात्र इस कोर्स को कर सकते हैं. इस पाठ्यक्रम के तहत, छात्रों को उद्योग स्तर पर काम करने के लिए तैयार किया जाता है. ताकि उन्हें अच्छी नौकरी मिल सके. इस पाठ्यक्रम के माध्यम से, उम्मीदवारों को कई क्षेत्रों में प्रशिक्षित किया जाता है. यदि आप आई टी आई करने के बाद आगे पढ़ाई करना चाहते है तो आपको पॉलिटेक्निक में प्रवेश के लिए अच्छा है. Donating Used Cars to Charity

आई.टी.आई के इन्स्टिट्यूट | I.T.I Institute
  • देश में कुल 11,964 आईटीआई केंद्र हैं.
  • सरकारी केंद्र : 2284
  • निजी केंद्र : 9680
आई.टी.आई व्यवसाय की जानकारी | I.T.I Trade Information

आईटीआई  (I.T.I) में अभियांत्रिकी (Engineering)और गैर-अभियांत्रिकी (Non-engineering) के प्रकार के कोर्स पढ़ाए जाते है. आप अपने अनुसार से व्यवसाय का चुनाव कर सकते है. औद्योगिक प्रशिक्षण संस्था में विभिन्न व्यवसाय के बारें में प्रशिक्षित किया जाता है.

जैसे की इलेक्ट्रीशियन, फिटर, बढ़ई,  फाउंड्री मैन, बुक बाइंडर, प्लंबर, पैटर्न निर्माता, मेसन बिल्डिंग कन्स्ट्रक्टर, उन्नत वेल्डिंग, वायरमैन, शीट मेटल वर्कर आदि कोर्स का प्रशिक्षण दिया जाता है कुछ कोर्स की जानकारी पढ़िए. PHD on Counseling Education

अधिक जानकारी के लिए आई.टी.आई ट्रेड लिस्ट निम्नलिखित है जैसे की…..
1. इलेक्ट्रीशियन

इस पाठ्यक्रम के तहत, छात्रों को वायरिंग (आवासीय, वाणिज्यिक और औद्योगिक), प्रकाश व्यवस्था (आवासीय, वाणिज्यिक और बाहरी), बिजली उत्पादन, वितरण और ट्रांसमिशन सिस्टम, इंसुलेटर, अर्थिंग, कैपेसिटर और इलेक्ट्रिकल सर्किट, बैटरी, सर्विसिंग और मरम्मत प्रदान की जाती है। बिजली के उपकरण। (मोटर्स, पंप, बाड़, घरेलू उपकरण, एसी, फ्रिज आदि), ट्रांसफार्मर और एसी / डीसी प्रशिक्षण प्रणालियों के बारे में दिया गया है।

  • कालावधि : 2 साल
  • योग्यता : 10 वीं पास
2. फिटर

इस प्रशिक्षण पाठ्यक्रम के तहत, संरचनात्मक ढांचे से संबंधित प्रशिक्षण और रूपरेखा के संयोजन का प्रशिक्षण दिया जाता है। प्रशिक्षण के दौरान, छात्रों को कोण लोहे, आई-बीम, स्टाल प्लेट, हाथ उपकरण, और वेल्डिंग उपकरण का उपयोग करके संरचनात्मक ढांचे को इकट्ठा करने और फिट करने के लिए सिखाया जाता है।

  • कालावधि : 2 साल
  • योग्यता : 10 वीं पास
3. बढ़ई / कारपेंटर 

यह एक छोटे पैमाने का शिल्पकार पाठ्यक्रम है और इस पाठ्यक्रम की अवधि 1 वर्ष है। इस कोर्स का सिलेबस 6 महीने के 2 सेमेस्टर में पूरा होता है। इस पाठ्यक्रम के तहत, छात्रों को इमारतों, जहाजों, लकड़ी के पुलों और कंक्रीट के ढांचे के निर्माण के लिए लकड़ी काटने, आकार देने, और स्थापना का प्रशिक्षण दिया जाता है. इस कोर्स को करने के बाद छात्र अपना व्यवसाय शुरू कर सकते हैं

  • कालावधि : 1 साल
  • योग्यता : 8 वीं पास
4. फाउंड्री मैन

इस आईटीआई पाठ्यक्रम / व्यवसाय की सभी गतिविधियाँ फाउंड्री से संबंधित हैं. इस पाठ्यक्रम के तहत, छात्रों को फाउंड्री से संबंधित सभी पहलुओं और कार्यों में प्रशिक्षित किया जाता है. इस पाठ्यक्रम में, छात्रों को अग्नि सुरक्षा उपकरणों का उपयोग करके सुरक्षा रखने, रेत तैयार करने, ढोने और कोर तैयार करने, भट्टी संचालित करने की शिक्षा दी जाती है.

  • कालावधि : 1 साल
  • योग्यता : 10 वीं पास
5. मेसन बिल्डिंग कन्स्ट्रक्टर

यह एक ऐसा व्यवसाय है जिसके माध्यम से छात्रों को निर्माण से जुड़े सभी पहलुओं की जानकारी और प्रशिक्षण दिया जाता है. इस पाठ्यक्रम के तहत, छात्रों को विभिन्न निर्माण परियोजनाओं के पूरा होने, ऐतिहासिक इमारतों के नवीनीकरण और निर्माण कार्यों से संबंधित पेपर वर्क के बारे में जानकारी दी जाती है.

  • कालावधि : 1 साल
  • योग्यता : 8 वीं पास
6. उन्नत वेल्डिंग

यह एक इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग से संबंधित व्यावसायिक व्यवसाय है और इस पाठ्यक्रम की अवधि 2 वर्ष है जिसमें 4 सेमेस्टर शामिल हैं. इस पाठ्यक्रम में, छात्रों को परीक्षा तारों की मरम्मत और प्रतिस्थापन से संबंधित कार्य सिखाया जाता है. इसके अलावा वायरिंग के तरीके, फायर प्रोटेक्शन सिस्टम की स्थापना, इलेक्ट्रिक सिस्टम का समस्या निवारण आदि भी सिखाया जाता है.

  • कालावधि : 2 साल, 4 सेमेस्टर, 6 माह के बाद 1 सेमेस्टर.
  • योग्यता : 10 वीं पास
7. वायरमैन

यह एक इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग से संबंधित व्यावसायिक व्यवसाय है. छात्रों को परीक्षा तारों की मरम्मत और प्रतिस्थापन से संबंधित कार्य सिखाया जाता है. इसके अलावा वायरिंग के तरीके, फायर प्रोटेक्शन सिस्टम की स्थापना, इलेक्ट्रिक सिस्टम का समस्या निवारण आदि का प्रशिक्षण दिया जाता है.

  • कालावधि : 2 साल, 4 सेमेस्टर, 6 माह के बाद 1 सेमेस्टर.
  • योग्यता : 10 वीं पास
ट्रेड :
  1. उन्नत इलेक्ट्रॉनिक्स (Advanced Electronics)future career
  2. एडवांस टूल एंड डाई मेकिंग (Advanced Tool and Die Making)
  3. उन्नत वेल्डिंग (Advanced welding)future career
  4. आर्किटेक्चरल ड्राफ्ट्समैन शिप (Architectural Draftsman Ship)
  5. बेकर और हलवाई (Baker & Pastry)future career
  6. बुक बाइंडर(Bookbinder)
  7. कैड कैम (Cad cam)future career
  8. बढ़ई (carpenter)
  9. कंप्यूटर ऑपरेटर और प्रोग्रामिंग सहायक (Computer operator and programming assistant)future career
  10. काटना और सिलना (Cutting and sewing)
  11. डेस्क टॉप पब्लिशिंग ऑपरेटर (Desktop publishing operator)future career
  12. ड्राफ्ट्समैन मैकेनिकल (Draftsman mechanical)
  13. चालक सह मैकेनिक लाइट मोटर वाहन (Driver cum Mechanic Light Automotive)future career
  14. विद्युतीय (Electrical)
  15. बिजली मिस्त्री (electrician)future career
  16. इलेक्ट्रॉनिक मैकेनिक (Electronic mechanic)
  17. Electroplater future career
  18. फिटर (Fitter)
  19. फाउंड्री मैन (Foundryman)future career
  20. बाल और त्वचा की देखभाल (Hair and skincare)
  21. हीट इंजन ऑटोमोबाइल (Heat Engine Automobile) future career
  22. यंत्र मैकेनिक (Machine mechanic)
  23. साधन मैकेनिक रासायनिक संयंत्र (Instrument Mechanic Chemical Plant) future career
  24. आंतरिक सजावट और डिजाइनिंग (Interior Decoration & Designing)
  25. मशीन उपकरण रखरखाव (Machine tool maintenance) future career
  26. इंजीनियर (engineer)
  27. मेसन बिल्डिंग कंस्ट्रक्टर(Mason Building Constructor) future career
  28. मैकेनिक कंप्यूटर हार्डवेयर (Mechanic computer hardware)
  29. मैकेनिक डीजल (Mechanic diesel) future career
  30. Mechanic मशीन टूल्स का रखरखाव (Maintenance of mechanic machine tools)
  31. मैकेनिक मोटर वाहन (Mechanic motor vehicle) future
  32. Mechanicरेडियो और टेलीविजन (Mechanic Radio and television)
  33. मैकेनिक प्रशीतन और एयर कंडीशनर (Mechanic Refrigeration and air conditioner)
  34. मैकेनिक घड़ी और घड़ी (Mechanic clock and watch) future
  35. मेट्रोलॉजी और इंजीनियरिंग निरीक्षण (Metrology and Engineering Inspection)
  36. टुकड़े टुकड़े हो जाना (fall to pieces)
  37. नेटवर्क तकनीशियन (Network technician)
  38. पेंटर जनरल (Painter general)
  39. प्रतिमान निर्माता (pattern maker)
  40. नलसाज (Plumber)
  41. प्री तैयारी स्कूल प्रबंधन सहायक (Pre-Preparation School Management Assistant)
  42. शिक्षण के सिद्धांत (Teaching principles)
  43. सचिवीय अभ्यास (Secretarial practice)
  44. शीट मेटल कर्मचारी (sheet metal worker)
  45. स्टेनोग्राफी अंग्रेजी(Stenography English)
  46. सर्वेयर(Surveyor)
  47. उपकरण और निर्माता मरो (Die Tools and Manufacturers)
  48. टर्नर (Turner)
  49. वेल्डर गैस और इलेक्ट्रिक (Welder Gas & Electric)
  50. वायरमैन (Wireman)
12 वीं पास ट्रेड | 12th pass trade

12 वीं पास के लिए निम्लिखित ट्रेड

  1. Computer Operator & Programming Assistant (COPA)
  2. Stenography English
  3. Stenography Hindi
10 वी पास  | For 10th pass

10 वी बेसिक पर अभियांत्रिकी (Engineering) व्यवसाय भी रहते है. जैसे की…

  1. ब्लीचिंग और डाइंग केलिको प्रिंट (Bleaching & Dyeing Calico Print)
  2. वाणिज्यिक कला (Commercial Art)
  3. डीजल मैकेनिक (Diesel Mechanic)
  4. ड्राफ्ट्समैन (सिविल) (Draughtsman (Civil))
  5. ड्राफ्ट्समैन (मैकेनिकल) (Draughtsman (Mechanical))
  6. ड्रेस मेकिंग (Dress Making)
  7. बिजली मिस्त्री (Electrician)
  8. फिटर (Fitter)
  9. फाउंड्री मैन (Foundry Man)
  10. फल और सब्जी प्रसंस्करण (Fruit & Vegetable Processing)
  11. बाल और त्वचा की देखभाल (Hair & Skin Care)
  12. हैंड कंपोजिटर (Hand Compositor)
  13. सूचना प्रौद्योगिकी और ई.एस.एम. (Information Technology & E.S.M.)
  14. चमड़े का सामान बनानेवाला (Leather Goods Maker)
  15. पत्र प्रेस मशीन मिंडर (Letter Press Machine Minder)
  16. इंजीनियर (Machinist)
  17. फूट वेयर (Manufacture Foot Wear)
  18. मैक.साधन (Mech. Instrument)
  19. मैकेनिक इलेक्ट्रॉनिक्स (Mechanic Electronics)
  20. Mechanic मोटर वाहन (Mechanic Motor Vehicle)
  21. मैकेनिक रेडियो और टी.वी. (Mechanic Radio & T.V.)
  22. मोटर ड्राइविंग-कम-मैकेनिक (Motor Driving-Cum-Mechanic)
  23. पंप संचालक (Pump Operator)
  24. रेफ्रिजरेशनसेकरेटेरियल प्रैक्टिस (RefrigerationSeceratarial Practice)
  25. शीट मेटल कर्मचारी (Sheet Metal Worker)
  26. सर्वेयर (Surveyor)
  27. उपकरण और मरो निर्माता (Tool & Die Maker)
  28. टर्नर (Turner)
8वी पास ट्रेड | 8th Pass Trade

8वी बेसिक पर गैर-अभियांत्रिकी ट्रेड

  • वायरमैन (Wireman)
  • प्रतिमान निर्माता (Pattern Maker)
  • मैकेनिक कृषि (Mechanic Agriculture)
  • वेल्डर (गैस और इलेक्ट्रिक) (Welder (Gas & Electric))
  • फोर्जर और हीट ट्यूरेट (Forger & Heat Treater)
  • बढ़ई (Carpenter)
  • नलसाज (Plumber)
  • मैकेनिक ट्रैक्टर (Mechanic Tractor)
  • प्लास्टिक प्रिंटिंग ऑपरेटर (Plastic Printing Operator)
  • काटना और सिलना (Cutting & Sewing)
  • बुक बाइंडर (Book Binder)
  • कढ़ाई और सुई कार्यकर्ता (Embroidery & Needle Worker)
  • फैंसी कपड़े की बुनाई(Weaving Of Fancy Fabric)
शैक्षणिक योग्यता | Educational Qualifications
  • आईटीआई इंजीनियरिंग की नींव रखने का काम करती है. अगर हम आईटीआई करते है. अर्थात हम मिनी इंजीनियर बन जाते है. आईटीआई में भी शैक्षणिक योग्यता के नुसार ट्रेड का चुनाव कर सकते है. अगर हम 8 वीं पास भी है फिर भी हम आईटीआई में नॉन इंजीनियर बन सकते है. अगर कोई छात्र 10 वीं फेल है और उसे सरकारी या निजी जॉब चाहिए तो उसके सामने 8 वी बेसिक पर आईटीआई करना बहुत बढ़िया अवसर है.
  • आईटीआई / आईटीसी में प्रवेश लेने के लिए, छात्र को किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से कम से कम 10 वीं कक्षा (एसएसएलसी / मैट्रिकुलेशन) उत्तीर्ण होना चाहिए.
  • 8 वी पास पर नॉन इंजीनयर ड्रेड
  • 10 वी पास पर इंजीनयर ट्रेड
  • 12 वी पास पर ट्रेड अलग रहेंगे
कोर्स की अवधि | Course duration

आईटीआई में तीन प्रकार के कोर्स पढ़ाए जाते है. 1. टेक्निकल, 2. इंजीनियरिंग, 3. नॉन इंजीनियरिंग. टेक्नीककाल और इंजीनियरिंग एक ही क्षेत्र के कोर्स है.

  • इंजीनियरिंग कोर्स 2 साल
  • नॉन इंजीनियरिंग कोर्स 1 साल
  • मिनी आई.टी.आई : 6 महीने,
  • सरकारी और निजी आई.टी.आई : 1 ते 2 वर्ष
आईटीआई पाठ्यक्रमों के लिए आयु सीमा | Age limit for ITI courses
  • विभिन्न आईटीआई पाठ्यक्रमों में प्रवेश पाने के लिए छात्रों की आयु 14 वर्ष से 25 वर्ष के बीच होनी चाहिए। SC / ST / OBC उम्मीदवारों को अधिकतम आयु में 3 वर्ष की छूट दी गई है और महिलाओं या व्यक्तिगत महिलाओं के लिए अधिकतम आयु सीमा 35 वर्ष निर्धारित की गई है।
आयु में छूट | Age relaxation
  • पूर्व कर्मचारियों और 45 वर्ष की आयु तक के लोगों को वॉर विडोज के मामले में छूट दी गई है.
  • यदि व्यक्ति विकलांगता से पीड़ित है, तो उन्हें 10 साल की छूट मिलती है.
  • विधवा या महिलाएं जो अपने पति से अलग रहती हैं जिनकी उम्र 35 वर्ष है, उन्हें भी छूट है.
निजी आईटीआई पाठ्यक्रम शुल्क | Private ITI Course Fee
  • यदि आपके पास अच्छे अंक नहीं हैं, आपका मेरिट लिस्ट के अनुसार सरकारी आईटीआई में नंबर नहीं लगता है, तो आप निजी आईटीआई में प्रवेश कर सकते हैं और अपना वांछित ट्रेड चुन सकते हैं. लेकिन आपको अपनी जेब गर्म रखनी होगी, यानी आपको ज्यादा फीस देनी होगी. निजी आईटीआई की फीस भारत सरकार के नियमों के अधीन रहती है.
  • आईटीआई ग्रामीण और शहरी क्षेत्र के अनुसार रहती है. अगर हम जिस आईटीआई में प्रवेश लेना चाहते है वह आईटीआई ग्रामीण है तो फीस 15000 के आस पास रहेगी.
  • आईटीआई शहरी क्षेत्र में है तो फीस 16000 से अधिक हो सकती है.
  • ट्रेड के अनुसार फीस बकाया जाती है.
  • आप को आईटीआई करना है तो सबसे पहले आप जिस संस्था में आईटीआई में प्रवेश लेना चाहते है उस संस्थान में जाकर जानकारी प्राप्त करना योग्य रहेगा.
सरकारी आईटीआई पाठ्यक्रम शुल्क | Government ITI Course Fee
  • सरकारी संस्थान में फीस बहुत ही कम रहती है.
  • सामान्य श्रेणी – 250
  • एससी / एसटी / ओबीसी श्रेणी – 150
  • शारीरिक रूप से अक्षम, दृष्टिबाधित, युद्ध विधवाओं, शहीद / विकलांग पूर्व सैनिकों के बच्चों, अनाथालयों या किशोर सुधार गृह द्वारा संदर्भित छात्रों के लिए शुल्क में छूट दी गई है
  • व्यवसाय के नुसार फीस रहती है.
आईटीआई ऑनलाइन आवेदन पत्र कैसे भरें | How to fill ITI online application form
  •  दसवीं का रिजल्ट आने के बाद जुलाई माह में आईटीआई के फॉर्म निकलते है.
  • ईमेल id बनाएं. अगर आपकी ईमेल id नहीं बनी है तो यहाँ क्लिक करें
  • आईटीआई के ऑफीसियल वेबसाइट ncvtmis.gov.in पर क्लिक करें.
  • उसके बाद Examiner देखे Examiner पर माउस रखने के बाद Examiner Registration पर क्लिक करे.
  • क्लिक करने के बाद Application Form ओपन हो जाएगा.
  • अभी आपको कैंडिडेट के नाम से पंजीकरण (Registration) करना है.
  • पंजीकरण करते समय कैंडिडेट या फिर घर के सदस्य का मोबाइल नंबर दर्ज करना पड़ता है क्यों की फॉर्म भरते समय OTP नंबर (4 या 6 अंक रहते है) का मेसेज मोबाईल पर आता है. OTP नंबर दर्ज करें
  • ऑनलाइन आवेदन शुल्क भरे और पावती का प्रिंट निकाले.
  • फॉर्म भरने के बाद एक बार फॉर्म जरूर पढ़े और सब्मिट करें.
  •  मेरिड लिस्ट के अनुसार प्रवेश मिलता है. समय पर लिस्ट देखना चाहिए.
आईटीआई आवेदन के लिए दस्तावेज | Documents for ITI application
  • आधारकार्ड
  • मार्कशीट 8, 10, 12 वीं
  • लिविंग सर्टिफिकेट
  • नॉन क्रिमेलियर
  • जाती प्रमाणपत्र
ऑनलाइन ट्रेड कैसे देखे ? | How to see online trade?
  • आपको आईटीआई करना है और आपको कौन से संस्था में कौन सा ट्रेड उपलब्ध है इसके लिए महाराष्ट्र राज्य के सरकारी और निजी आईटीआई ट्रेड देखने के लिए यहाँ क्लिक करे.
आईटीआई परीक्षा और प्रमाण पत्र | ITI exam and certificate

छात्र अपना व्यावसायिक / व्यवसाय प्रशिक्षण पूरा करने के बाद अखिल भारतीय व्यापार परीक्षा ( All India Trade Test) (एआईटीटी) पूरा करते हैं, और इस परीक्षण में सफल होने वाले छात्रों को राष्ट्रीय व्यवसाय  प्रमाणपत्र (National Trade Certificate) (एनटीसी) दिया जाता है.

कैसे देखें आईटीआई सेमेस्टर और वार्षिक परिणाम | How to view ITI semester and annual results
भारत में आईटीआई पास उम्मीदवारों के लिए प्रमुख नौकरी की भर्ती | Major job recruiters for ITI pass out candidates in India

इंडियन रेल | Indian Railway

ग्रुप सी: द्वितीय श्रेणी

  •  सहायक लूप पायलट (Assistant Loop Pilot),
  •  तकनीशियन (Technician),
  • क्रेन चालक (Crane Driver),
  •  लोहार (Blacksmith),
  • बढ़ई (Carpenter)

ग्रुप डी: 

  • गैंग मैन (Gang Man),
  • स्विचमैन (Switchman),
  • ट्रैक मैन (Trackman),
  • गेटमैन (Gateman),
  • केबिन मैन (Cabin Man),
  • लीवर मैन (Lever Man),
  •  प्वॉइंट्स मैन (Points Man),
  •  शंटर (Shunter),
  • की मैन (Key Man),
  • वेल्डर (Welder),
  • फिटर (Fitter),
  • पोर्टर (Porter),
  • ट्रैक मेनटेनर (Track Maintainer).

राज्य विद्युत बोर्ड | State Electricity Board

  • इलेक्ट्रिशियन,
  •  वायरमैन,
  • इलेक्ट्रोनिक मैकेनिक,
  • फिटर,
  •  मेकेनिक,
  • टेक्नीयशियन,
  • ऑपरेटर, इ
  • न्स्ट्रूमेंट मैकेनिक,
  • वेल्डर,
  • स्टेनोग्राफर एंड सेक्रिटेरियल असिस्टेंट,
  • पलम्बर,
  • मैकेनिक डीज़ल,
  • रेफ्रिजरेशन एंड एयर कंडीशनिंग.

आयुध कारखाना | Ordnance Factory

  • इलेक्ट्रिशियन,
  •  फिटर,
  • जनरल एग्जामिनर,
  •  मशीनिस्ट टर्नर,
  • मिल राइट,
  • इलेक्ट्रोप्लेटिंग एग्जामिनर,
  • टर्नर,
  • फिटर,
  • इलेक्ट्रिकल फिटर,
  • रेफ्रिजरेशन,
  • मोल्डर,
  • बेल्डर,
  • इलेक्ट्रॉनिक,
  • मशीनिस्ट,
  • पेंटर और एग्जामिनर बेल्डर ट्रेड.
भारतीय सेना | Indian army
  • कांस्टेबल – टेक्निकल और ट्रेडमेन पोस्ट.
तेल और प्राकृतिक गैस निगम लिमिटेड | Oil and Natural Gas Corporation Ltd
  • ट्रेड अपरेंटिस पोस्ट्स.
  • एनटीपीसी,
  • भेल,
  • पेट्रोलियम कार्पोरेशन लिमिटेड,
  • दूरसंचार,
  • आयल एंड नेचुरल गैस कारपोरेशन लिमिटेड
  • सीआरपीएफ पैरा मिलिट्री फ़ोर्स

यह भी पढ़े :

Postscript: 

Post Name: आईटीआई में भविष्य कैसे बनाएं? (How to make future in ITI)

Description:  आप आईटीआई करके अपना भविष्य उज्वल करे..

Author: शीतल

Tags: What is ITI?How to make a career in ITI?, Employment opportunities in ITI. 

Leave a Reply

error: Content is protected !!