How to do MBBS after 12th? | 12वीं के बाद MBBS कैसे करे?

How to do MBBS after 12th? : 12वीं के बाद MBBS कैसे करे?, MBBS doctor kaise bane : एमबीबीएस डॉक्टर कैसे बनें? एमबीबीएस में करियर / भविष्य कैसे बनाएं?, Bachelor of Medicine, Bachelor of Surgery 

नमस्कार, जब आप छोटे थे, तब आपको बुखार या खांसी होती थी. उस समय हमारे माता-पिता हमें डॉक्टर के पास ले जाते थे और डॉक्टर हमें दवा, इंजेक्शन देते थे. उस समय में हमारे दिमाग में यह भी विचार आता है कि मैं बड़ा होकर डॉक्टर बनूंगा और लोगों की सेवा करूंगा. यह बात बारा आने सच भी है. 12 वीं का परिणाम भी कुछ ही दिनों में आ रहा है, CET का अध्ययन करें. तो चलिए जानते हैं, 12 वीं के बादMBBS कैसे करें? (How to do MBBS after 12th?) Bachelor of Surgery

एमबीबीएस – मास्टर डिग्री, जिसके बाद अपने नाम से पहले एक डॉक्टर लिख सकते है, आपको 12 वीं जीव विज्ञान के बाद बैचलर ऑफ मेडिसिन और बैचलर ऑफ सर्जरी का अध्ययन करना चाहिए, यह चिकित्सा के क्षेत्र में सबसे बेहतरीन कोर्स है.

How to do MBBS after 12th? | 12वीं के बाद MBBS कैसे करे ?, Bachelor of Medicine

यदि आप डॉक्टर बनना चाहते हैं, तो आप इस कोर्स को कर सकते हैं क्योंकि आप जानते हैं कि एक डॉक्टर का पेशा बहुत सम्मानजनक पेशा है और इस डिग्री को प्राप्त करने के बाद आपको अन्य नौकरियों की तुलना में बहुत अच्छा वेतन दिया जाता है.

एमबीबीएस का नाम आपने कई बार सुना और देखा होगा लेकिन ज्यादातर लोग इसके बारे में नहीं जानते हैं, इसलिए आज का हमारा यह लेख इसी से संबंधित जानकारी देने के लिए है, आज हम आपको 12वीं के बाद MBBS कैसे करे ? (How to do MBBS after 12th?) के बारे में जानकारी देंगे.Bachelor of Medicine Bachelor of Surgery

एमबीबीएस फुल फॉर्म | MBBS Full Form

  • MBBS (बैचलर ऑफ मेडिसिन और बैचलर ऑफ सर्जरी – Bachelor of Medicine and Bachelor of Surgery)

यह भी पढ़े :

एमबीबीएस की तैयारी कैसे करें? | How to prepare for MBBS?

हमें जीवन में क्या बनना है, यह एक गोल तैयार करना चाहिए उस हिसाब से पढ़ाई करना चाहिए, आपको MBBS डॉक्टर बनना है तो आपको 8 वी क्लास से ही सेमिसाइन्स लेना चाहिए. 11 वी में सायंस फैकल्टी का चुनाव करे. फिजिक्स, बायोलॉजी और केमिस्ट्री की पढ़ाई अच्छे से करना चाहिए क्यों की CET में इन्ही विषयों के आधार पर प्रश्न पूछे जाते है.  इसलिए 11 वी कक्षा से ही फिजिक्स, बायोलॉजी और केमिस्ट्री के पढ़ाई पर ध्यान केंद्रित करे और अपने डॉक्टर बनने का सपना पूरा करे. Bachelor of Medicine

आपको MBBS डॉक्टर बनने के लिए CET देना होता है. इस परीक्षा में आपको पास होना पड़ता है क्यों की ऐसी परीक्षा के अंकों के अनुसार MBBS के लिए चुनाव किया जाता है. आपने सुरवात से पढ़ाई अच्छे से की तो आपका नंबर सरकारी कॉलेज में लगेगा और आपके  फ़ीस की बचत होगी क्यों की निजी कॉलेज में फीस बहुत ही अधिक रहती है और सरकारी कॉलेज में कम रहती है. Bachelor of Medicine

समय के साथ हमारे जीवन में बहुत बदलाव आया है. लेकिन जो शैली सबसे ज्यादा बदली है वह है चिकित्सा का क्षेत्र. इसे हमेशा सेवा के क्षेत्र के रूप में माना जाता रहा है और डॉक्टर को समाज में भगवान का दर्जा दिया जाता है.

एमबीबीएस के लिए शैक्षिक योग्यता | Educational Qualification for MBBS

  • छात्रों ने भौतिकी, रसायन विज्ञान, जीवविज्ञान और अंग्रेजी में 10 + 2 परीक्षा उत्तीर्ण
  • न्यूनतम 50% अंक ( आरक्षित वर्ग के छात्रों को 40% अंक)
  • राष्ट्रीय और विश्वविद्यालय स्तर की प्रवेश परीक्षा
  • उम्र 17 से 25 के बिच होनी चाहिए Bachelor of Surgery
  • अनुसूचित जाती / जनजाति , अन्य पिछड़ा वर्ग के छात्रों के लिए पांच साल की छूट
  • AIPMT में तीन बार ही छूट के चान्स मिलते है. Bachelor of Surgery

प्रवेश परीक्षा की जानकारी | Entrance exam information

चिकित्सा क्षेत्र में आने के लिए, आपको राष्ट्रीय स्तर पर CBSC बोर्ड द्वारा आयोजित राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा (NEET-UG) की आवश्यकता होगी. चिकित्सा क्षेत्र में आने के लिए, आपको CBSC बोर्ड द्वारा राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा (NEET – UG) परीक्षा उत्तीर्ण करके किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से MBBS बैचलर ऑफ मेडिसिन एंड बैचलर ऑफ सर्जरी (MBBS) की पढ़ाई करनी होती है. Bachelor of Medicine Bachelor of Surgery

MBBS  प्रवेश के लिए आपको एंट्रेंस एग्जाम देना होता इन एग्जाम के अंक के नुसार आपको प्रवेश मिलता है. MBBS after 12th?

एंट्रेंस एग्जाम के नाम निम्नलिखित है …….

  • AIIMS: All India Institute of Medical Sciences
  • AIPMT: All India Pre-Medical / Pre Dental
  • MH-CET: Maharashtra Common Entrance Test
  • DPMT: Delhi University Pre-Medical Test
  • PMET: Punjab Medical Entrance Test
  • UPMT: Uttar Pradesh Medical Test
MBBS पाठ्यक्रम की जानकारी | MBBS course information  
  • MBBS  का पाठ्यक्रम 5 वर्ष 6 महीने का रहता है इस कोर्स में 4 वर्ष 6 महीने का शैक्षणिक सत्र और 1 वर्ष का इंटर्नशिप रहती है.
  • 9 सेमेस्टर रहते है और प्रत्येक सेमेस्टर 6 महीने का रहता है.
  • MBBS कोर्स पूरा होने के बाद अपने नाम के आगे डॉक्टर लगा सकते है.

यह भी पढ़े :

एमबीबीएस कोर्स शुल्क | MBBS Course Fee
  • 9 से 12 लाख रु फीस रहती है.
एमबीबीएस के बाद क्या करें | What to do after MBBS
  • MD ( मास्टर ऑफ़ मेडिसिन), MS (मास्टर ऑफ़ सर्जरी) से एक क्षेत्र का चुनाव करना पड़ता है.
  • MD करने के बाद फिजिशियन बनते है और MS करने के बाद सर्जन बन सकते है.
नौकरी / कैरियर – Job / career 
  • बायोमेडिकल कंपनियां
  • laboratory
  • अनुसन्धान संस्थान
  • खुद का क्लिनिक खोल सकते है.
वेतन | Salary
  • 50,000 से 2,50,000 से ऊपर.

यह भी पढ़े :

Postscript: अनुलेख

Post Name: 12वीं के बाद MBBS कैसे करे? (How to do MBBS after 12th?)

Description : एमबीबीएस डॉक्टर बनने के लिए क्या करें? अगर आप एमबीबीएस डॉक्टर बनना चाहते हैं, तो आपको बस कड़ी मेहनत करनी होगी, एमबीबीएस डॉक्टर में बहुत अच्छा करियर बनाया जा सकता है. डॉक्टर बनने के बाद, आप लोगों का आशीर्वाद कमाते हैं, जिसे पैसे से नहीं खरीदा जा सकता है, जो पेशे में बहुत कम देखा जाता है. अगर आपको हमारी पोस्ट पसंद आई हो तो इसे शेयर जरूर करें.

Author: अमित

Tags : 12वीं के बाद MBBS कैसे करे ?,MBBS डॉक्टर कैसे बनेMBBS में करियर कैसे बनाएं?

Leave a Reply

error: Content is protected !!