In A.N.M, create future after 12th | A.N.M में, 12 वीं के बाद भविष्य बनाएं.

In A.N.M,create future after 12th:सहायक नर्स मिडवाइफरी में 12 वीं के बाद भविष्य बनाएं, Auxiliary Nurse Midwifery course kya hai? Midwife nurse me career, employment opportunities kya hai?, 

Introduce oneself(Auxiliary Nurse Midwifery):

In A.N.M (Auxiliary nurse)create future after 12th | A.N.M में, 12 वीं के बाद भविष्य बनाएं.

हम सभी जानते हैं कि नर्सिंग का यह काम कितना महान और पवित्र है हालाँकि यह उम्र भर के लिए रहा है, इसने अंग्रेजी महान नर्स ” फ्लोरेंस नाइटिंगेल” के कार्यों के माध्यम से एक नर्सिंग पेशे के रूप में प्रसिद्धि प्राप्त की है. दया की देवी को आधुनिक नर्सिंग पेशे की मां माना जाता है.

नर्सों की भूमिकाओं को उनके प्रदर्शन के अनुसार विभाजित किया जा सकता है. सामान्य नर्सों के रूप में, जो अस्पतालों, नर्सिंग होम और अस्पताल संस्थानों में नर्सिंग का काम करती हैं, उन्हें जर्नल नर्स कहा जाता है. उनके मुख्य कार्यों में रोगियों की देखभाल, डॉक्टर के काम और प्रशासनिक जिम्मेदारियों का समर्थन करना शामिल है.

Auxiliary Nurse Midwifery (ANM):

चिकित्सा के क्षेत्र में अस्पतालों का काम बहुआयामी हो गया है. अब न केवल उपचार बल्कि सेवा पर भी ध्यान दिया जाता है. इसके अलावा, चिकित्सा पर्यटन को बढ़ावा मिला है. इलाज के लिए विदेश से आने वाले मरीज हर लिहाज से अच्छी स्थिति चाहते हैं. यह बदलाव नर्सिंग करियर को एक नया दायरा भी दे रहे हैं.

नर्सिंग में आप असिस्टेंट नर्स / मिडवाइफ / हेल्थ वर्कर (एएनएम) कोर्स से शुरुआत कर सकते हैं. एएनएम पाठ्यक्रम ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले लोगों की स्वास्थ्य आवश्यकताओं की देखभाल करने के लिए प्रशिक्षण प्रदान करता है, विशेष रूप से बच्चों, माताओं और वृद्ध व्यक्तियों को, एएनएम सहायक नर्सिंग मिडवाइफरी एक डिप्लोमा कोर्स है जो विभिन्न व्यक्तियों के स्वास्थ्य संबंधी अध्ययन पर केंद्रित है

एएनएम पाठ्यक्रम छात्रों को उपकरण की देखभाल करने, ऑपरेटिंग थिएटर स्थापित करने, रोगी को समय पर दवा उपलब्ध कराने और रिकॉर्ड बनाए रखने आदि के लिए प्रशिक्षित करता है और उन्हें बुनियादी स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं के रूप में काम करने में सक्षम बनाता है. एएनएम के माध्यम से बच्चों, महिलाओं और बुजुर्गों का इलाज किया जा सकता है और समाज की सेवा कर सकते हैं. चलिए जानते है, A.N.M में, 12 वीं के बाद भविष्य बनाएं(In A.N.M, create future after 12th)

यह भी पढ़े:

ANM पाठ्यक्रम:ANM course

  • डिप्लोमा कोर्स (2 साल)
  • परीक्षा का प्रकार – सेमेस्टर प्रणाली

ANM का फुल फॉर्म:Full form of ANM

ANM पाठ्यक्रम के लिए शैक्षणिक योग्यता:Educational Qualification for ANM Course

  • विज्ञान शाखा में 12 वी पास.
  • सामन्य वर्ग 50 % अंक.
  • SC, ST – 40 %, 50 % अंक
  • उम्र कम से कम 17 और अधिकतम उम्र 35 साल.
ANM के लिए प्रवेश प्रक्रिया:Admission process for ANM

एएनएम नर्सिंग पाठ्यक्रम में अंतिम प्रवेश प्रवेश परीक्षा और पीआई (व्यक्तिगत साक्षात्कार) में उम्मीदवारों के स्कोर पर निर्भर करता है. ANM में प्रवेश लेने के लिए कुछ संस्था साक्षात्कार या परीक्षा देकर के प्रवेश निश्चित करते है. निम्नलिखित परीक्षा के नाम है.

  • जेआईपीएमईआर नर्सिंग प्रवेश परीक्षा (JIPMER Nursing Entrance Examination)
  • पीजीआईएमईआर नर्सिंग (PGIMER Nursing)
  • एडेश विश्वविद्यालय नर्सिंग प्रवेश (Adesh University Nursing Entrance)
  • एम्स नर्सिंग प्रवेश परीक्षा (AIIMS Nursing Entrance Exam)
  • बीएचयू नर्सिंग प्रवेश परीक्षा (BHU Nursing Entrance Examination)
  • भारतीय सेना नर्सिंग और जीएनएम (Indian Army Nursing and GNM)
  • केआईएमएस विश्वविद्यालय नर्सिंग प्रवेश (KIMS University Nursing Admissions)
  • नेइग्रिह्म्स नर्सिंग (Neigrim’s Nursing)

यह भी पढ़े:

ANM प्रवेश शुल्क:ANM admission fees
  • सरकारी संस्था की कम रहती है और निजी संस्था की फ़ीस अधिक रहती है.
  • 10,000 /- से 5 लाख रु. तक फिस रहती है.
ANM पाठ्यक्रम जानकारी:ANM Course Information

ए.एन.एम पाठ्यक्रम 2 साल का रहता है. विषय के नाम निम्न लिखित है.

प्रथम वर्ष – First Year 

  • सामुदायिक स्वास्थ्य नर्सिंग (Community Health Nursing)
  • स्वास्थ्य संवर्धन (health promotion)
  • प्राथमिक हेल्थकेयर नर्सिंग (रोगों की रोकथाम और स्वास्थ्य की बहाली) (Primary Healthcare Nursing )
  • बाल स्वास्थ्य नर्सिंग (Child Health Nursing)
  • पोषण (Nutrition)
  • पर्यावरण स्वच्छता (Environmental Sanitation)
  • स्वच्छता (Cleanliness)
  • संक्रमण और टीकाकरण (Infection and Immunization)
  • प्राथमिक चिकित्सा (first aid)
  • प्राथमिक चिकित्सा देखभाल (First aid care)
  • संचारी रोग (Communicable Diseases)
  • सामुदायिक स्वास्थ्य समस्याओं (Community health problems)

द्वितीय वर्ष – second year

  • दाई का काम (Midwifery)
  • स्वास्थ्य केंद्र प्रबंधन (Health Center Management)
ए.एन.एम के बाद नौकरी:Job after A.N.M

ए.एन.एम नर्सिंग डिप्लोमा कोर्स होने के बावजूद, यह वरिष्ठ नौकरी के अवसरों की गारंटी नहीं देता है, फिर भी यह स्वास्थ्य क्षेत्र में काम करने के इच्छुक 10 + 2 पासआउट के लिए एक लाभदायक कोर्स है. दाई श्रेणी में नर्सें, जिनकी विशेषज्ञता गर्भवती महिलाओं की देखभाल और प्रसव के दौरान सहायता प्रदान करना है. इसके अलावा, वे स्वास्थ्य कार्यकर्ता के रूप में भी काम करते हैं. नर्सिंग कर्मचारी जो ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले लोगों को चिकित्सा देखभाल प्रदान करते हैं उन्हें स्वास्थ्य कार्यकर्ता कहा जाता है.

निजी या सरकारी अस्पताल, नर्सिंग होम, अनाथालय, वृद्धाश्रम, उद्योग, सैनिटोरियम,  मेडिकल लैब्स, चिकित्सा सामग्री लेखन, सामुदायिक हेल्थकेयर केंद्र और सैन्य बल में भी नौकरी मिलती है. इनके अलावा, अन्य सरकारी विभागों में इनकी आवश्यकता होती है.

  • यात्रा नर्स (Travel nurse)
  • बिक्री खरीद सहायक (Sales purchase assistant)
  • आपातकालीन कक्ष नर्स (Emergency room nurse)
  • रिसेप्शनिस्ट और प्रवेश ऑपरेटर (Receptionist and admission operator)
  • शिक्षक और कनिष्ठ व्याख्याता (Teacher and junior lecturer)
  • नैदानिक नर्स विशेषज्ञ (Clinical nurse specialist)
  • मैडम, प्रभारी और सहायक (Madam, in charge and assistant)
  • ब्रांड प्रतिनिधि और हाइपर (Brand representative and hyper)
  • कानूनी नर्स सलाहकार (Legal Nurse Consultant)
  • फोरेंसिक नर्सिंग (Forensic Nursing)
  • मिडवाइफ नर्स (Midwife nurse)
सैलरी:Salary
  • 13000 /- से लाखों के ऊपर रहती है.
ए.एन.एम कॉलेज: ANM College
  • क्रिश्चियन मेडिकल कॉलेज वेल्लोर, तमिलनाडु
  • सशस्त्र बल मेडिकल कॉलेज – {एएफएमसी} पुणे, महाराष्ट्र
  • जवाहर लाल इंस्टीट्यूट ऑफ पोस्ट ग्रेजुएट मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च – {जेआईपीएमईआर}  पुडुचेरी
  • मद्रास मेडिकल कॉलेज – {एमएमसी} चेन्नई, तमिलनाडु
  • श्री रामचंद्र विश्वविद्यालय, चेन्नई, तमिलनाडु
  • आंध्र युनिवर्सिटी कॉलेज ऑफ साइंस एंड टैक्नोलॉजी विशाखापत्तनम
  • एसआरएम विश्वविद्यालय कट्टनकुलथुर कैंपस – {एसआरएम}, कांचीपुरम, तमिलनाडु
  • भारती विद्यापीठ विश्वविद्यालय – {बीवीयू}, पुणे, महाराष्ट्र
  • कालीकट विश्वविद्यालय, कालीकट, केरल
  • पोस्ट ग्रेजुएट मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च इंस्टिट्यूट – {आईपीजीएमईआर}, कोलकाता

यह भी पढ़े :

Postscript: अनुलेख

Post Name:  A.N.M में, 12 वीं के बाद भविष्य बनाएं. (In A.N.M, create future after 12th)

Publish: www.pravingyan.com

Author: शीतल

Tags: In A.N.M, create future after 12th, ANM, GNM,B.Sc.Nursing.

इंग्लिश में पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें 

Leave a Reply

error: Content is protected !!