Multicolor benefits of marigold : गेंदा के बहुगुणी लाभ (aushadheeyukt gun)

Multicolor benefits of marigold:गेंदा के बहुगुणी लाभ,Marigold name:गेंदे के नाम, gende ke aushadheeyukt gun, nukasaan:गेंदे के औषधीयुक्त गुण और नुकसान.

मेंरा नाम अमितकुमार आज आपके लिए बेहद, खूबसूरत गुणकारी पुष्प की जानकारी इस लेख (Article) के माध्यम से आपको बताने जा रहा हु। मैं बात करने जा रहा हु दोस्तों गेंदे के पुष्प की, गेंदे का पुष्प बेहद खूबसूरत होता है, थंड के मौसम में गेंदे के पौधे को बेहद खूबसूरत पुष्प खिलते है। इन्ही पुष्प का उपयोग माला, पूजा आदि के लिए होता है। यह पुष्प बहूत दिनों तक मुरझाते नहीं, ताजगी से भरे रहते है।

Multicolor benefits of marigold

हमेशा ही गेंदे के फूल उपलब्ध रहते है। इस पुष्प का उपयोग स्वास्थ के लिए भी किया जाता है। गेंदे का पुष्प दर्द को जल्द ही भर के लाता है पुष्प में एंटीसेप्टिक गुण है इसलिए इसका उपयोग दवा के रूप में किया जाता है।

यह भी पढ़े: Multicolor benefits of marigold

Marigold की खास बाते:

गेंदे में आफ्रिकन, जाईट, लेमन, बॉल, ऑरेंज बॉल, सफ़ेद गेंदा, फ्रेंच मेरीगोल्ड, पिग्मी, नवरंग गेंदा आदि प्रकार के है। आज के विज्ञानयुग में गेंदे के पुष्प पर रिसर्च करना चालू रहता है इस पुष्प की खपत ज्यादा होने के कारण गेंदे की खेती करना बहुत ही फायदे मंद है। गेंदे का पुष्प, पत्तिया औषधियुक्त होने के कारण मानवजाति के लिए बहुगुणी है।

गेंदे के नाम:Marigold name

  • हिंदी – गेंदा
  • मराठी – झेंडू
  • गुजराती – गालगोटो ( ગાલ્ગોટો )
  • इंग्लिश – Merigold

गेंदे के पुष्प में एक तत्व पाया जाता है इस तत्व के कारण मलेरिया फैलानेवाले एनाफिलीज मच्छरों को भगाने में मदद करता है। फूल से मलेरिया जैसी बीमारी की रोकथाम कर सकते है। पौधे के आजुबाजु में कीड़े-मच्छर दिखाई नहीं देते। अपने घर के गार्डन में गेंदे के पौधे लगाए और अपना स्वास्थ अच्छा रखे। 

यह भी पढ़े: Multicolor benefits of marigold

gende ke aushadheeyukt gun:गेंदे के औषधीयुक्त गुण 

  • गेंदे (Marigold) में एंटी-इंफ्लेमेंट्री (Anti-Inflammatory) का प्रमाण रहने के कारण सूजन को कम करता है। लेप कोसूजन की जगह लगाने से सूजन कम होती है। Multicolor benefits of marigold
  • गेंदे में एंटी-माइक्रोबियल (Anti-microbial) और एंटी-इंफ्लेमेंट्री (Anti-Inflammatory) का प्रमाण होने के कारण चेहरे के दाग, धब्बे, मुँहासे आदि गायब होते है और गेंदे का लेप रात में सोते समय चेहरे पर लगाए और सुबह पानी से धो लीजिए आपका चेहरा निखरने लगेगा।
  •  बुखार आना, काँपरी आना और ठंड लगना आदि के लिए गेंदे के पुष्प की चाय बनाकर पिने से आराम मिलता है, क्यों की गेंदे के पुष्प में एंटी- बैक्टीरियल (Anti-bacterial) and एंटी-वायरल (anti-viral) का प्रमाण पाया जाता है।
  •  marigold में एंटी-इंफ्लेमेंट्री (Anti-Inflammatory) का सत्व रहने के कारण गेंदे का अर्क निकालकर टूथपेस्ट के साथ दांत घिसने से मसूड़ों की सूजन, खून निकलना आदि समस्या में आराम मिलता है।
यह भी पढ़े:

Indian scientist Brahmagupta | भारतीय वैज्ञानिक ब्रम्हगुप्त

12vi ke bad course tips:12वी के बाद कोर्स टिप्स

  • गेंदे में  एंटी-इंफ्लेमेंट्री (Anti-Inflammatory), एंटी- बैक्टीरियल (anti-bacterial) और एंटी-फंगल (anti-fungal) के तत्व रहने के कारण गेंदे के  अर्क से बनी मरहम को पलखों में लगाने से आँखों की समस्या दूर होती है।
  • गेंदे के पुष्प से मरहम तयार की जाती है, इस मरहम को दर्द पर लगाने से आराम मिलता है।
  •  marigold के पंखुड़ियों का अर्क बनाकर उसमें घी मिलाकर शहद के साथ सुबह- शाम 2-2 चमच लेने से रक्त मूलव्याध अच्छी होती है।
  • गेंदे की पंखुड़ियाँ को उबाल के सूजन की जगह पर लगाने से सूजन कम होती है।
  • गेंदे के फूल का अर्क लगाने से गजकर्ण और ख़रूज कम होती है और अर्क लगाने के बाद उबाले हुए पत्तियों का लेप बांधकर रखने से आराम मिलता है।
  •  marigold के पुष्प को पानी में उबालकर पानी का कुरला करने से दात का दर्द कम होता है।
  • गेंदे के पुष्प से सरबत, गुलकंद जैसा बेहद टेस्टी मुरब्बा, जाम-जेली आदि बनाए जाते है।
  • गेंदे के पुष्प से बेहद सुगन्धि अर्क, तेल आदि बनाया जाता है।
  • कान के दर्द के लिए गेंदे के पुष्प का अर्क बहुत ही गुणकारी है।
  • गेंदे की पंखुड़ियों से बर्फी, चॉकलेट, पेपरमिंट, छोटे बच्चों का खाऊ आदि बनाए जाते है।

गेंदे के नुकसान | gende ke nukasaan

  • चेहरे पर इंफेक्शन हो सकता है गेंदे का सेवन ज्यादा नहीं करना चाहिए।
  • प्रजनन शक्ति कम कर सकता है।
  • पीरियड्स में हानि पहुँचा सकता है।
  • गेंदे का सेवन, उपयोग गर्भावस्था और दुधपान में ना करे।

टिप-सेवन करने से पहले अपने चिकित्सक से जरूर सलाह लीजिए। 

यह भी जरूर पढ़े: 
डॉ.सी.व्ही रामन की जीवनी  

मदर तेरेसा की जीवनी

डॉ. शुभ्रमण्यम चंद्रशेखर की जीवनी 

डॉ.हरगोनिंद खुराना की जीवनी 

डॉ.अमर्त्य सेन की जीवनी 

डॉ.व्ही.एस.नायपॉल की जीवनी 

डॉ.राजेंद्र कुमार पचौरी की जीवनी

डॉ.व्यंकटरमन रामकृष्णन की जीवनी

मदर टेरेसा की जीवनी

रवीन्द्रनाथ टैगोर की जीवनी 

आल्फ्रेड नोबेल का जीवन चरित्र

भारत्तोलक कर्णम मल्लेश्वरी की जीवनी  

निशानेबाज राज्यवर्धन सिंग राठोर जिवनी 

वीरेंद्र सिंग जीवन 

मुष्टियोधा एम.सी मेरिकोम जीवनदर्शन 

भारतीय नेमबाज गगन सारंग जीवनदर्शन 

भारतीय नेमाज खिलाडी अभिनव बिंद्रा

बैडमिन्टन पटु सायना नेहवाल 

टेनिस खिलाडी लिएंडर पेस जीवनी

 झूलन गोस्वामी की जीवनी

पुलिस भरती की जानकारी 

डॉ.कल्पना चावला (अंतरिक्ष यात्री)

Leave a Reply

error: Content is protected !!