Pigeons and hen painful story:कबुतर और चिठी की दर्द नाक दास्तान

Pigeons and hen painful story:कबुतर और चिठी की दर्द नाक दास्तान, The story of the hen, pigeon and tree:मुर्गी, कबूतर और पेड़ की कहानी.

आज इस Article के माध्यम से आपको जीवन के बारे में कुछ अनसुनी बातें Question बताने जा रहे है। यह कहानी आपके मन में Question निर्माण करेगी और यह Question हमारे जीवन में बहुत ही मत्वपूर्ण मायने रखेंगे। दोस्तों आपके मन में 10 Question निर्माण होनेवाले है, इस 10 Question के बहुत ही जल्द जबाब मिलनेवाले है ।यह 10 Question बताने से पहले मै आपको एक कहानी बताने जार रहा हु। यह कहानी हमारे जीवन में परिवर्तन ला सकती है। परिवर्तन ही सृष्टि का नियम है।

 Pigeons and hen painful story:कबुतर और चिठी की दर्द नाक दास्तान

सृष्टि के नियम को हम बदल नहीं सकते। सृष्टि के अनेक नाम है जैसे की कुदरत, प्रकृति , निसर्ग आदि। इस Articale  में बतानेवाले Question और कहानी भी सृष्टि के नियम से बनी लेकिन इस कहानी का चतुर कबुतर  अपने अहंकार में किसी की मदद नहीं करता और खुद भी मरता है और जो मदद मांगने के लिए रो रही थी उसे भी मरने देता है। तकलीफ, दर्द किसी और को होता है।

यह भी पढ़े: Pigeons and hen painful story

कहानी का नाम / Story name

  • समय पर मदत

कहानी के कलाकार  /  Story Artists

  • चिठी Pigeons and hen painful story
  • कबूतर
  • पेड़

कहानी का खलनायक / Villain story

  • शिकारी Pigeons and hen painful story
Pigeons and Citi's painful story कहानी / story

एक गांव के तालाब के किनारे चिठियों का बसेरा था।चिठिया तालाब के किनारे ठंड के कारण मौज-मस्ती करते हुए टहलने निकलती थी।एक दिन चिठियों का मुखिया चिठी, तालाब में गिरती है और बचाने के लिए चिल्लाने चीखने लगी और पेड़ का पता और कबुतर की राह देखते लगी। कबुतर पेड़ पर ही बैठा था और चिठी की मजा देखने लगा।कबुतर ने मेरी मदत करना चाहिए, मुझे बचाना चाहिए इसलिए चिठी जोर-जोर से चिल्लाने चीखने लगी।लेकिन कबुतर को कोई दया नहीं आई कबूतर बहुत ही घमंडी था, अपने घमंड में चूर था मै इसकी बार-बार क्यों मदत करू मुझे क्या लिलेगा, मै बचाने नहीं जाता यही बातें सोचते हुए कबुतर पेड़ पर ही बैठा रहा और चिठी पानी में डूबकर मर गई।

शिकार करनेवाले शिकारी ने भी मोके का फायदा लिया और चौका लगाया, क्यों की जब कबुतर पेड़ पर बैठा रहता था तभी शिकारी के निशाने पर कबुतर रहता था और यह दॄश्य देख कर चिठी शिकारी के पैर को काट देती थी और शिकारी का निशाना चूका देती थी और शिकारी के हाथों से कबुतर की जान बचाती थी लेकिन इस बार कबुतर की जान कोण बचाएगा?

यह भी पढ़े:

कबुतर पेड़ पर ही बैठ कर चिठी की मजा देख रहा था और चिठी बेचारी मर जाती है। इस मोके का फायदा लेते हुए, शिकारी अपना निशाना लगाता है, क्यों की इस बार उसके पैर को काटनेवाला, निशाना चुकानेवाला  कोई नहीं था। शिकारी का निशाना कबुतर को लगता है और कबुतर भी मर जाता है।

चिठी और कबुतर की बहुत ही बेरहमी से मौत होती है।

पेड़ बेचारा उस दिन बहुत रोता है, बहुत दुःख भी होता है। क्यों की मेरे आँखों के आगे दोनों जीवों की मौत हुई। मेरे पत्ते के कारन चिठी की जान बच सकती थी लेकिन घमंडी कबुतर ने मेरा एक पत्ता भी पानी में नहीं गिराया। क्यों की चिठी मेरे पत्ते पर बैठ कर किनारे तक बहुच ही जाती और चिठी की जान बचती और चिठी की जान बचती तो कबुतर भी नहीं मरता।

चिठी और कबुतर के मौत का दुःख पेड़ को हुआ लेकिन उससे भी ज्यादा दुःख इस बात का होता है की, आज के युग में उदारता की भावना बहुत ही कम लोगों में नजर आती है।

कहानी का सार / summary of the story

मनुष्य यह समाजशील प्राणी है।मनुष्य समाज में ही रहता है।समाज में ही अपना नाम कमाता है, अगर हमने अच्छे कर्म किए तो समाज ही हमें अच्छे इंसान का दर्जा प्रदान करता है। अगर हम भी कबुतर की तरह घमंडी बनकर बैठे तो हमेंशा की तरह एक पेड़ से दूसरे पेड़ पर भटकते रहेंगे और एक दिन हमारे घमंड के कारण हमारी भी कोई  शिकार करके मार डालेगा।

कभी भी किसी भी समय हमें दूसरों की मदद की जरूरत पड़ती है , ठीक उसी तरह दूसरों को भी हमारे मदद की जरूरत पड़ती है। सभी लोग एक दूजे की मदद करे और अपना जीवन खुशाल बनाए।

घमंड, इंसान को विनाश की तरफ लेके जाता है और सेवा, मदद खुशबु की तरह फैलती है और जीवन को हिरे की तरह चमकाती है।

यह भी जरूर पढ़े: 
Sr.No Health Tips ArticlesS.N  Article Name 
 1  धनिया सेवन करने के लाभ 1 गाजर,पपीता,नींबू अचार कैसे बनाए ? 
 2आँवला के लाभ आवला सरबत कैसे बनाए?
 3मुसंबी खाने के लाभ   3धनिया बीज और जीरा सरबत कैसे बनाए ?
 4अनानास खाने के लाभ 4 इमली का पन्ह कैसे बनाए?
 5सीताफल खाने के लाभ   कबुदर और चिठी की कहानी 
 जामुन खाने के लाभ 6 अपनी जीवन शैली का ख्याल कैसे रखे ?
 7कटहल खाने के लाभ  7 ॐ उच्चारण के लाभ
 8नारियल खाने के लाभ  8    जीवन के 10 महत्वपूर्ण प्रश्न 
 9पपीता खाने के लाभ  9  रसोई टिप्स 
 10 केला खाने के लाभ  10 कुदरत का करिष्मा (साधू की कहानी )
 11अमरुद खाने के लाभ  11 अथलेटिक्स खिलाड़ियों की जानकारी 
 12अनार खाने के लाभ  12 Good dot (मिट )
 13 सेब खाने के लाभ  13 Jiyo  Tea
14अंगूर खाने के लाभ  14 सोनपपड़ी की जानकारी 
 15  संत्री खाने के लाभ 15  न्यूट्रीचार्ज वुमन 
 16  खरबूजा खाने के लाभ  16 न्यूट्रीचार्ज मेन 
 17  तरबूज खाने के लाभ  17 हेल्थ गार्ड ऑइल की जानकारी
 18  निम्बू खाने के लाभ  18 न्यूट्रीचार्ज DHA 
 19 जीरा खाने के लाभ 19 न्यूट्रीचार्ज किड्स
 20 मूली खाने के लाभ 20 न्यूट्रीचार्ज स्ट्रॉबेरी प्रोडॉइट

Leave a Reply

error: Content is protected !!