Benefits of eating lemon:नींबू खाने के लाभ (Medicinal properties of lemon)

Benefits of eating lemon:नींबू खाने के लाभ (Medicinal properties of lemon), How to get vitamins A, B, C, copper, sulfur, sodium, niacin, iron, magnesium, citric, phosphoric acid and potassium?

भारत में निम्बू का उपयोग वैदिक काल से किया जा रहा है। निम्बू का उपयोग दो कामों के लिए किया जाता है, आहार और दवा, शुभ और अशुभ के लिए होता है। नींबू का पेड़ 15 – 20 फुट ऊचा रहता है। निम्बू भारत में सभी जगह पर पाया जाता है। निम्बू विदेशी प्रजाति के रहते है और उनके प्रकार भी  है, जैसे की खट्टा नींबू , बढे नींबू।

Benefits of eating lemon:नींबू खाने के लाभ (Medicinal properties of lemon)

किसी के घर में निम्बू का पेड़ रहता है। निम्बू ज्यादा महगा नहीं रहता सभी लोग लेकर के इसका सेवन कर सकते है। कच्चे निम्बू का रंग हरा और पके निम्बू का रंग पीला रहता है पिले रंग के निम्बू बहुत ही गुणकारी होते है। निम्बू में शरीर को मिलनेवाले पोषक आरोग्यवर्धक जीवनसत्व रहते है।

यह भी पढ़े: Benefits of eating lemon

निम्बू के नाम | Name of lemon

  • संस्कृत –  जंबीर Benefits of eating lemon
  • हिंदी – नींबू , जंबीरी
  • मराठी – लिंबू Benefits of eating lemon
  • इंग्लिश – Lemon

निम्बू में विटामिन्स ए, बी, सी, ताम्बा, सल्फर, सोडियम, नायसिन, आयरन, मैग्नेशियम, साइट्रिक, फास्फरिक एसिड्स और पोटॅशियम आदि मिनरल्स रहते है और व्हिटामिन ” सी ” बढ़ी मात्रा में रहता है। निम्बू में औषधियुक्त गुणधर्म है। खाना खाते समय निम्बू का रस लेते है। पिने के पानी में निम्बू और नमक डालके पीना चाहिए। पाचन क्रिया के लिए निम्बू बहुत ही गुणकारी फल है। निम्बू के ” सी ” जीवनसत्व के कारण रोगप्रतिकारक शक्ति बढ़ती है। निम्बू खाने से आंत में कोई भी खाद्य पदार्ध ख़राब नहीं होता और पेट साफ रहता है।

यह भी पढ़े: Benefits of eating lemon

Medicinal properties of lemon | निम्बू के औषधियुक्त गुण

निम्बू का रस रोगजंतुनाशक होने के कारण सभी स्त्री, पुरुष और बच्चों ने निम्बू के रस का सेवन करना चाहिए। सेवन करनेवाले व्यक्ति को संसर्गजन्य रोग नहीं होता है। निम्बू का रस खाली पेठ लेना सेहद के लिए फायदे मंद है।

निम्बू के खट्टे गुण से गर्मी से रक्षा करता है। गर्मी से होनेवाले विकारों के लिए निम्बू लाभदायक है।

lemon पानी में शहद मिलाकर पिने से शरीर की चर्बी कम होती है और वजन नहीं बढ़ता।

निम्बू सरबत प्रतिदिन लेना आरोग्य के लिए हितकारक है लेकिन ज्यादा नहीं लेना चाहिए। हप्ते में कभी कभी पीना चाहिए। बवासीर के कारण रक्तस्त्राव होना, हगवन आदि विकारों पर आराम मिलता है।

निम्बू का खट्टा पण खून शुद्ध करने का कार्य करता है। निम्बू में का पोटॅशियम का प्रमाण ह्रदय को स्वस्थ बनता है।

पेट के विकार के लिए निम्बू रामबाण इलाज है। पाचनक्रिया की समस्या, पेट दर्द, अतिसार इन विकारों के लिए निम्बू के सरबत में ओवा, साखर मिलाकर पिने से आराम होता है।

निम्बू का रस, थोड़ा नमक , खाने का सोडा दाँत मसूड़ों को लगाने से दाँत से होनेवाला रक्तस्त्राव, पायोरिया, मुखरोग आदि विकार दूर होते है।

निम्बू में व्हिटामिन ” पि ” और ” सी ” जीवनसत्व रहते है, इस जीवनसत्व के कारन रक्त वाहिनियाँ और धमनियाँ मजबूत बनती है।

चेहरे को रात में सोते समय निम्बू का रस, शहद, हल्दी और दूध की छाय इनका लेप लगाने से चेहरे पर निखार आता है।

निम्बू की साल मुँहासे पर रगड़ने से मुँहासे जाते है।

एक चमचा निम्बू के पत्ती का रस और शहद मिलाकर छोटे बचें को चखाना चाहिए, इस से पेट के विकार दूर होते है।

यह भी पढ़े:

रात में सोते समय निम्बू का रस और आवला का रस मिलाकर बालों को लगाने से बाल झड़ना, डेंड्रफ से छुटकारा, बाल पकना आदि विकार कम होते है और बाल सिल्की और स्वच्छ होते है।

कपडे के ऊपर के शाई के डाग और अन्य डाग पर निम्बू का रस लगाकर साफ करते आता है। रसोई के पीतलि, ताम्बा स्टेनलेस स्टील के बर्तन को निम्बू लगाकर साफ करते आता है।

कुकर शेगडी पर रखने से पहले निम्बू का छोटा तुकडा पानी में डालना ऐसा करने से कुकर का बिच का भाग काला नहीं होता है।

लौंग का चूर्ण निम्बू के रस में मिलाकर उस से दाँत घिसने से दादों का दर्द कम होता है।

निम्बू में सैधव नमक डालके निम्बू प्रतिदिन चखते रहना चाहिए इस से मुतखडा का विकार कम होता है

आँखों का आना इस विकार के लिए निम्बू का रस, अनार का रस और पानी इन को एक में मिलाकर आँखों को धोना चाहिए आराम होता है।

ख़रूज, नायता, पुरल आधी त्वचा रोगों के लिए निम्बू का रस लगाने से विकार दूर होते है।

मासाहारी पदार्थ खाते समय साथ में निम्बू का रस सब्जी में ऊपर से लेते हो तो पाचनक्रिया अच्छी रहती है।

यकृत दुर्बल है ऐसे व्यक्ति ने निम्बू का रस नहीं लेना चाहिए।

रक्तदाब(Blood pressure) के रोगी ने निम्बू रस का सेवन करने के लिए डॉक्टर का सल्ला लेना जरुरी है।

निम्बू शरीरकों संजीवनी देनेवाला, गरीबों का डॉक्टर , और साफसफाई करने का झाड़ू है। निम्बू का सेवन भोजन करते समय अवश्य करे।

यह भी जरूर पढ़े:
Sr.No Health Tips ArticlesS.N  Article Name 
 1  धनिया सेवन करने के लाभ 1 गाजर,पपीता,नींबू अचार कैसे बनाए ? 
 2आँवला के लाभ आवला सरबत कैसे बनाए?
 3मुसंबी खाने के लाभ   3धनिया बीज और जीरा सरबत कैसे बनाए ?
 4अनानास खाने के लाभ 4 इमली का पन्ह कैसे बनाए?
 5सीताफल खाने के लाभ   कबुदर और चिठी की कहानी 
 जामुन खाने के लाभ 6 अपनी जीवन शैली का ख्याल कैसे रखे ?
 7कटहल खाने के लाभ  7 ॐ उच्चारण के लाभ
 8नारियल खाने के लाभ  8    जीवन के 10 महत्वपूर्ण प्रश्न 
 9पपीता खाने के लाभ  9  रसोई टिप्स 
 10 केला खाने के लाभ  10 कुदरत का करिष्मा (साधू की कहानी )
 11अमरुद खाने के लाभ  11 अथलेटिक्स खिलाड़ियों की जानकारी 
 12अनार खाने के लाभ  12 Good dot (मिट )
 13 सेब खाने के लाभ  13 Jiyo  Tea
14अंगूर खाने के लाभ  14 सोनपपड़ी की जानकारी 
 15  संत्री खाने के लाभ 15  न्यूट्रीचार्ज वुमन 
 16  खरबूजा खाने के लाभ  16 न्यूट्रीचार्ज मेन 
 17  तरबूज खाने के लाभ  17 हेल्थ गार्ड ऑइल की जानकारी
 18  निम्बू खाने के लाभ  18 न्यूट्रीचार्ज DHA 
 19 जीरा खाने के लाभ 19 न्यूट्रीचार्ज किड्स
 20 मूली खाने के लाभ 20 न्यूट्रीचार्ज स्ट्रॉबेरी प्रोडॉइट

Leave a Reply

error: Content is protected !!