vijender singh biography:विजेन्दर सिंग का जीवन दर्शन

vijender singh biography:विजेन्दर सिंग का जीवन दर्शन,vijender singh boxing academy,vijender singh education,vijender singh govt job.

vijender singh biography:विजेन्दर सिंग का जीवन दर्शन

परिचय | Introduction

नाम :- विजेंदर सिंग बेनीवाल

जन्म स्थल :- कालुवास ( जिल्हा-भिवानी ) हरियाणा राज्य

जन्म दिनांक :- 29 अक्टूबर 1984

पिताजी का नाम :- महिपाल सिंग बेनीवाल

यह भी पढ़े:vijender singh biography

विजेंदर सिंग का पारिवारिक जीवन | Family life of Vijender Singh

विजेंदर सिंग के पिताजी महिपाल सिंग बेनीवाल हरियाणा राज्य के कालुवास गांव जिल्हा -भिवानी के रहिवासी है। उनके पिताजी S.T में Bus driver थे। उनकी माताजी Housewife थी। विजेन्द्र सिंग का जन्म कालुवास गांव में 29 अक्टुंबर 1985 में हुवा है। विजेंदर सिंग के बड़े भाई का नाम मनोज है।घर की आर्थिक परिस्थिति  बहुत ही नाजुक थी।

कालुवास के प्राथमिक स्कुल में विजेंदर का नाम भर्ती करवाया गया।भिवानी के माध्यमिक स्कुल से HSSC की परीक्षा पास हुए और भिवानी के वैश्य महाविद्यालय से B.A की डिग्री मिली आगे की पढ़ाई वे नहीं कर पाए।

 मुक्केबाज करिअर की सुरवात | Boxer career start

सन 1990 में Boxer राज कुमार संगवान ने मुक्केबाजी में उल्लेखनीय प्रदर्शन किया था इसलिए उन्हें अर्जुन पुरस्कार से सन्मानित किया गया था और मुक्केबाजी को सुरुवात हुई। मुक्केबाज का प्रशिक्षण मनोज ने लिया  और1998 में मनोज को सेनादल में नोकरी मिली।

मुक्केबाजी में मनोज की प्रगति देख के विजेंदर प्रभावित हुवा और अपने भाई मनोज से मुक्केबाजी का प्रशिक्षण लेने लगा। मनोज सिंग अपने छोटे भाई को Economic मदद करने लगा। विजेंदर सिंग ने भिवानी के भिवानी Boxing Club प्रशिक्षण चालू किया।

विजेन्दर की Boxing के प्रति Intelligence, Genius देख के उसके पिताजी ने उसे आगे पढ़ने के लिए कुछ नहीं बोले और Boxing में अपना करियर बनाने को कहा। प्रशिक्षण लेते समय खर्चा पूरा करने के लिए विजेंदर मॉडेलिंग करता था।

यह भी पढ़े:vijender singh biography

राष्ट्रिय युवा विजय वीर | National Youth Vijay Veer

विजेन्द्र बहुत ही मेहनत से अभ्यास करने लगा और विश्व विकर्मी Boxr बन गया और प्रतियोगिता में सहभागी होने लगा। विजेन्द्रकी Height 10 फुट है। उम्र के 12 वे साल में सन 1997 में प्रथम Boxing में Celebrity मिली। 1997 में ” सब ज्युनिअर नॅशनल ” प्रतियोगिता में सर्वप्रथम Silver Medal हासिल किया। उसके बाद सन 2000 में Boxing में उम्र के 17 वे साल में Gold Medal हासिल किया। सन 2003 में उम्र के 18 वे साल में ”

All India Youth Boxing Championship ” में भाग लेकर Gold Medal हासिल किया।

अंतर्राष्ट्रीय प्रदर्शन | International Performance

National level पर Boxing प्रतियोगिता में सामिल होकर Medal हासिल करने के कारण विजेंदर को International level पर खेलने के लिए Indian government ने Boxing का प्रशिक्षण अपने तरफ से दिया। Indian boxer और Nominated boxer गुरुबक्षक सिंग संधू ने Guidance और Valuable training  दिया।

विजेन्द्र ज्युनिअर Boxer होने के कारन Selection test competition में सामिल हुवा और 2002 केAsian Games के लिए पात्र हुवा। इस प्रतियोगिता में विजेन्द्र ने Silver Medal हासिल किया। विजेन्द्र की Boxing Style रॉकी फिल्म के रॉकी बाल्बोआ के चरित्रात्मक अभिनय पर सिल्वेस्टर स्टॉलोन Actor के जैसा है, ऐसा मिडिया का मत है। लेकिन विजेन्द्रर पर माईक टायसन और Boxer प्रवर्तक डॉन किंग इस Boxer का प्रभाव है।

2006 में मेलबोर्न(ऑस्ट्रेलिया) में कॉमनवेल्थ गेम्स में 75 किलो वजन गट में Boxing में silver Medal हासिल किया। और 2006 में दोहा (कतार ) में खेले गए एशियन गेम्स में 75 किलो (मिडलवेट) वजन गट प्रतियोगिता खेल में शामिल होकर कांस्य पदक हासिल किया।

2009 के ” World amateurs boxing championship” में 75 किलो वजन गात में सामिल होकर कांस्य पदक हासिल किया। सप्टेंबर 2009 में ” इंटरनेशल बॉक्सिंग असोशिएशन ” ने प्रस्तुत किए गए 75 किलो वजन गट में मुष्ठियोद्धा के क्रमांक के 2800 पॉइंट के साथ प्रथम क्रमांक पर था।

2010 में चीन में खेले गए ”इंटरनेशनल चैम्पियनशिप ऑफ़ चॅम्पियन्स बॉक्सिंग दुर्नामें International Championship of Champi-ons Boxing Narrants”  में सामिल होकर silver Medal  हासिल किया। 18 मार्च 2010 में दिल्ली में खेले गये Commonwealth boxing championship में Gold Medal हासिल किया।

2010 में दोहा में एशियन गेम में 75 किलो वजन गट में भाग लेकर उज्बेक के दो बार world championship का boxer अब्बोस अटनोव्ह को 7-0 से हराकर Gold Medal हासिल किया।

यह भी पढ़े:vijender singh biography

ऑलिंपिक प्रदर्शन | Olympic performance

6 फुट लंबा विजेंदर सिंग ने सन 2006 के कॉमन गेम्स में silver Medal हासिल करके 2008 के बीजिंग Olympic के लिए चुना गया। लेकिन पीठ के दर्द के कारन परेशान था। लेकिन प्रतियोगिता के पहले ही दर्द चला गया। बीजिंग ऑलिम्पिक के लिए पश्चिम जर्मनी में boxing का प्रशिक्षण लिया। जर्मनी के प्रतियोगिता में उसने Gold Medal हासिल किया था। ” प्रेसिडेंट्स कप बॉक्सिंग डूर्नामेंट्स ” में जर्मनी के आर्टएवह को हराया था।

सन 2008 के बीजिंग ऑलिम्पिक में प्रथम फेरी में विजेन्दर ने झाम्बिया के बड़ाऊ जॅक को 13-2 अंक से हराया। दूसरे फेरी में थाइलैंड के अंगखान चोमफु फ़ोग को 13-3 अंक से हराया और Pre-quarters फेरी में प्रवेश किया। 20 अगस्त 2008 को विजेन्द्र ने दक्काडोर के कार्लोस गोंगोरा को हराकर Medal निश्चित किया। 22 अगस्त 2008 को विजेन्द्र Semifinal round में क्यूबा के एमीलिओ कोरिया से 5-8 अंक से हारकर कांस्य पदक हासिल किया।

सन 2012 के लन्दन ऑलिम्पिक में प्रथम फेरी में विजेन्द्रर ने काझाखस्तान के दानाबेक सुझवाणबेक को 14-10 अंक से हराया। दूसरे फेरी में अमेरिका के टेरेल गौशा को 16-15 अंक से हराया।विजेन्दर Semifinal round में पहुंचा लेकिन अब्बोस अटनोव्ह ने 17-13 से विजेन्द्रर को हराया।

अभिनय और वैवाहिक जीवन | Acting and marital life
  • बीजिंग ऑलिम्पिक में कांस्य पदक हासिल करने के बाद मिडिया की तरफ से विजेन्दरजी को प्रसिद्धी बहुत मिली।
  • Modeling का Ramp show अमृता राव के साथ किया था।
  • सलमान खान के ” दस का दम ” इस टी.व्ही शो में अभिनेत्री मल्लिका शेरावत के साथ दिखाई दिए थे।
  • विजेन्दर सिंग का विवाह 17 मे 2011 को software engineer अर्चना सिंग ( B.E , M.B.A) के साथ हुवा है।
पुरस्कार | Award
  • 2009 में राजीव गाँधी ”खेलरत्न” पुरस्कार
  • 2010 में खेल के लिए ”पद्मश्री” पुरस्कार
यह भी जरूर पढ़े:

Leave a Reply

error: Content is protected !!