face a big challenge : एक बड़ी चुनौती का सामना (a major global challenge)

face a big challenge : एक बड़ी चुनौती का सामना, the big allotment defiance watch online, a major challenge facing egypt today is.

face a big challenge : एक बड़ी चुनौती का सामना (a major global challenge)

आज की स्थिति में आरसीएम बिजनस एक सफलतम अभियान बन चुका है। अनेकों लोगों की भावनाये इसके प्रति गहराई से जुड़ चुकी है। इस के अभूतपूर्व परिणाम इसकी विराट संभावनाओं को उजागर कर रही है बिना किसी बाहरी विज्ञापन के यह सारे देश में चर्चीत अभियान बन चूका है।

face a big challenge : एक बड़ी चुनौती का सामना

नेटवर्क में जहा बहुत बड़ी ताकत है। सबको एक दूसरे के प्रयासों का लाभ मिलता है। एक बहुत बड़ा संगठन बनता है जो स्थायी रहने पर आर्थिक सुरक्षा के साथ साथ जीवन जीने में महत्वपूर्ण योगदान देता है, लेकिन इसको बनाकर रखना उतनाही मुश्किल है। इसमें जो लोग जुड़ते है वे दूसरों की आय देख कर जुड़ जाते है।

वे यह नहीं देख पाते है की इसके लिए धैर्य पूर्वक लगातार परिश्रम भी करना पड़ता है। इसकी वजह से वे पर्याप्त धैर्य नहीं रख पाते, परिणाम आने तक इंतजार नहीं कर पाते, तुरंत परिणाम चाहते है।

इस वजह से लोगों को किसी नेटवर्क में जोड़कर रखना रेत को मुठ्ठी में बांधने से कम आसान नहीं है। आर सी एम बिजनस की सुरवात से लेकर आज तक कई इस तरह के व्यवसाय हमारे देश में शुरु हुए। व्यवसाय करने की हर व्यक्ति को स्वतंत्रता है। हर कोई अपना निजी व्यवसाय करके सफल होना चाहता है यह एक सामान्य सी बात है।

यह भी पढ़े : RCM Distributor’s Way of Working

नेटवर्क मार्केटिंग में हर व्यवसायी अपनी और ज्यादा से ज्यादा लोग जोड़ने का प्रयास करता है यह भी स्वभाविक सी क्रिया है लेकिन नेटवर्क का निर्माण लोगों के समूह से होता है वे आपस में संगठित होकर कार्य करें तो नेटवर्क में मजबूती आती है।

नेटवर्क मार्केटिंग में लोगों को आकर्षित करने के लिए इसके मार्केटिंग प्लान में विभिन्न प्रकार से लाभों को दर्शाया जा सकता है। त्वरित लाभ दिखाने के भी अनेक तरिके हो सकते है। कौन सा ट्रिक दीर्घकालीन लाभों के लिए उचित है, कौन सा प्लान सफलता दिला सकता है।  कौनसा अस्थायी है यह बात कोई समझने की कोशश करे तो बहुत आसान है लेकिन कई लोग त्वरित लाभ पाने की चाह में यह सब समझने की कोशिश नहीं करना चाहते है, बल्कि ऐसी सोच भी बहुत देखने को मिलती है की क्या पता आगे चलेगा या नहीं, अभी जितना और जैसे हाथ लगता है बटोर लो।face a big challenge

Some Fundamental Principles of Network Marketing:नेटवर्क मार्केटिंग के कुछ मौलिक सिद्धांत 

१) काम के अनुसार आय मिलनी चाहिए। ज्यादा काम करने वालों को ज्यादा आय और कम काम करने वालों को कम आय। काम नहीं करने वालों को आय नहीं मिल सकती है। जो सिस्टम बिना काम किये आय देने की बात करता है।  वह ज्यादा नहीं चल सकता है।

२ ) उत्पादों की बिक्री का लाभ ही कमीशन के रूप में वितरित किया जाना चाहिए।  अतिरिक्त पैसा लेकर उसे बाटने का तातपर्य पैसा कुछ लोगों से लेकर दूसरे लोगों को देना है जो गलत है।

३) नेटवर्क मार्केटिंग में लगातार आय के लिए लगातार प्रयास और अपने डाऊन लाइन ग्रुप का लगातार सहयोग अपेक्षित होना चाहिए। केवल एक बार किसी लेवल पर पहुंच जाने मात्र से उस लेवल की आय देते रहना सर्वथा अनुचित है। इससे येन-केन-प्रकारेण वाली प्रवृत्ति उतपन्न होती है।

४ ) उत्पादों की उपयोगिता, उपलब्धता व मूल्य आम आदमी के उपयुक्त होने चहिये।

५ ) काम नहीं करने वालों को आय नहीं मिलनी चाहिए लेकिन उन्हें किसी प्रकार का नुकशान भी नहीं होना चहिये।

६ ) कभी भी किसी भी प्रकार की ऐसी राशि वसूल नहीं दी जाती हो।

७ ) नेटवर्क मार्केटिंग में परम्परागत व्यवसाय के मुकाबले में कई सारि पेचीदगियां होती है। उत्पादों के विपणन के  साथ साथ कमीशन की कई गुणकों में गणना करनी होती है।  आम आदमी को बिजनस के तरीके समझाने होते है। नेटवर्क से जुड़े लोगों की प्रेरणा,प्रशक्षिण,उत्साहवर्धन पर लगातार कार्य करना होता है व इनकी उम्मीदों पर खरा उतरना होता है। सभी दुष्टिकोण से कम्पनी के पास प्रबंधकीय क्षमता व टीम होना अत्यंत आवश्यक है।

यह भी पढ़े: rcm business company : टी.सी जी का संदेश

नेटवर्क मार्केटिंग के नाम से अनेकों कंपनियां आई और कारन जो भी रहा हो चाहे उनकी तैयारी की कमी हो, प्रबंधन में कमी रही हो या अन्य कुछ, लेकिन ज्यादातर कंपनियां ज्यादा समय चल नहीं पाई।

उनका जो भी हश्र हुआ लेकिन एक समय में बहुत अधिक कंपनियां आई और सब ने अलग अलग तरीको से प्रलोभी करने की कोशिस की, इससे हमारे नेटवर्क में बार बार बहुत बिखराव हुआ। मेरे सामने दो बहुत बड़ी चुनौतियां खड़ी हो गई। एक तो इतनी सारि कम्पनिया नाकामयाब हो जाने से लोगों के मन में नेटवर्क मार्केटिंग से पूरी तरह विश्वास ही उठ गया। एक समय ऐसा आ गया की लोग नेटवर्क मार्केटिंग के नाम से ही कतराने लगे।

ऐसे समय में किसी को अपनी बात कहना बहुत मुश्किल हो गया और जब कोई सुनने को ही तैयार न हो तो आगे काम कैसे बढ़ायेंगे। हर आदमी की जुबान पर एक ही प्रश्न उभर रहा था की कम्पनी भाग गई तो क्या होगा ? कम्पनी बंद हो गई तो क्या होगा?

यह भी पढ़े : RCM Distributor’s Way of Working

हमारे पास इसके बहुत सशक्त उत्तर भी थे। उत्तर दिए भी जाते थे, लेकिन कहते है की शक की कोई दवा नहीं होती। दूध का जला छाछ को भी फूंक फूंक कर पिता है। लोगों के मन में यह शक इतनी गहराई से बैठ गया की उसे निकालना बहुत चुनौती भरा कार्य था।

हमारी पूरी टीम का हौसला भी धीरे धरे कमजोर होने लगा। दूसरी चुनौती आई अन्य कंपनियों के प्रलोभनों से आये नेटवर्क में बिखराव से। कुछ डिस्ट्रीब्यूटर्स जो बहुत लगन और मेहनत से काम कर रहे थे उनके परिणाम भी गिरने लगे। उनको भी बांध कर रखना मुश्किल होता जा रहा था।

जो मेरी टीम के सशक्त सिपाही थे जिनके दम पर मै बहुत विश्वस्त था। जिनके बलबूते बहुत बड़ी बड़ी योजनाए बना रखी थी। जो कदम कदम पर साथ निभाने की कसमे खाते थे। जिनकी आखों में विश्वास का तेज झलकता था। जो मेरे लिए प्रेरणा स्त्रोत का काम करते थे। उनकी आँखों में मैंने एक भय की लकीर देखि, उनके विश्वास को डगमगाते देखा। उनमें से कई दूसरे मार्केटिंग प्लान को भी ऐसा करो,अमुक प्रावधान और लागू कर दो।

यह भी पढ़े : RCM Distributor’s Way of Working

मेरी मजबूरी यह थी की मै वह आत्मघाती कदम नहीं उठा सकता था। क्योकि मुझे स्पष्ट दिखयी दे रहा था की ये प्रावधान पुरे सिस्टम को ख़त्म करने वाले है। यह दौर मेरे लिए बहुत मुश्किल भरा दौर था। जब आप किसी यात्रा की शुरुआत करते है तो पहले पड़ाव पर पहुंच कर आप खुश होते है लेकिन बहुत आगे पहुंचकर वापस पहले पड़ाव पर आ जाना बहुत दुःखद होता है। हमारा सारा नेटवर्क तेज गति से हाथ से फिसलता जा रहा था।

यह चुनौती मेरे लिए सामान्य चुनौती नहीं थी। अपने सामने इतनी मेहनत से बनाये हुए महल को यों धरासायी होते हुये देखना बहुत कष्ट कारक होता है लेकिन अब तक मै चुनौतियों से लड़ने का आदि हो चूका था। मै भीतर से सशक्त था।

मुझे इस सिस्टम की सच्चाई और असीम संभावनाओं पर पूर्ण भरोसा था। मै अपने आप को ऐसे ठोस उपाय के लिए सोचते हुए देख पा रहा था जो की इस तरह के झंझावातों को झेल सके।  मुझे लोगों के सामने साबित करना था की आर सी एम बिज़नस कोई छोटी छोटी मोटी कश्ती नहीं है जो तेज हवा के झोंके से डगमगा जाये यह एक ऐसा जहाज है जिसे बड़े से बड़े तूफान भी नहीं हिला सकता। इसने जो ठान ली है पूरी करके ही रहेगा।

यह भी जरूर पढ़े

Leave a Reply

error: Content is protected !!