भारोत्तोलक कर्णम मल्लेश्वरी का जीवन दर्शन | Life philosophy of the weightlifter Karnam Malleshwari

Life philosophy of the weightlifter Karnam Malleshwari इस लेख के माध्यम से यह जानकारी प्रस्तुत करने जा रहा है कि कैसे उन्होंने अपने भारोत्तोलक खेल में प्रदर्शन करके भारत की बेटी होने का गौरव प्राप्त किया।

◼️ मुष्टियोधा एम.सी मेरिकोम जीवनदर्शन 


◼️ भारतीय बैडमिन्टन पटु सायना नेहवाल 


Karnam Malleshwari

◼️ निशानेबाज राज्यवर्धन सिंग राठोर जिवनी 

◼️ वीरेंद्र सिंग जीवन  

कर्णम मल्लेश्वरी का परिचय | Introduction to Karnam Malleshwari

नाम :- कर्णम मल्लेश्वरी

जन्म दिनांक :- 01 जून 1975

जन्म स्थल :- श्रीककुलम ( आंध्र प्रदेश )

माता का नाम :- श्यामला

◼️ भारतीय नेमबाज गगन सारंग जीवनदर्शन 

◼️ भारतीय नेमाज खिलाडी अभिनव बिंद्रा जीवनी




कर्णम मल्लेश्वरी का पारिवारिक जीवन | Family life of Karnam Malleshwari 

कर्णम मल्लेश्वरी इस World record बनानेवाली Weight lifter का जन्म आंध्रप्रदेश के श्रीककुलम गांव में 01 जून 1975 को हुवा है। स्कूल में पढ़ते समय कर्णम मल्लेश्वरी को खेल में बहुत रूचि थी। Weight lifter में कर्णम मल्लेश्वरी को बहुत ही रूचि थी उसने Weight lifter खेल में अपना Future बनाने का निर्णय लिया। 

कर्णम यह शब्द संस्कृत भाष का शब्द है और इस शब्द का अर्थ – कीर्ति , प्रसिद्धि, प्रतिष्ठा celebrity,  popularity, Consecration है। सन 2000 के अथेन्स Olympic में कांस्य पदक हासिल करके अपना नाम इतिहास में दर्ज किया।

कर्णम मल्लेश्वरी ने अजिंक्यवीर का प्रशिक्षण बचपन से ही लिया प्रशिक्षण के मार्गर्शन में Weight उठाने का अभ्यास किया। उम्र के 12 -13 साल से ही Weight lifter के प्रतियोगिता में भाग लेकर के prize हासिल करती थी। 16 साल के अंदर के बच्चोंकी ” नॅशनल ज्युनिअर वेटलिप्टिंग चैम्पियनशिप ” में पहली बार भाग लिया और विजयी हुई। मल्लेश्वरी के Weight lifter के करियर को सुरुवात हुई। उम्र के 22 वे साल में सन 1997 में ”  ”

Senior national weightlifting championship में भाग लेकर अपना पुराण record तोडा।

कर्णम मल्लेश्वरी 52 किलो वजन गट में दो बार और 54 किलो वजन गट में 9 बार याने की कुल मिलाके 11 बार विजयी हुई।

कर्णम मल्लेश्वरी ने Weight lifter के 10 साल के Career में 11 Gold Medal , 3 silver Medal, और 1 Olympic में Bronze Medal हासिल किये थे।

◼️ टेनिस खिलाडी लिएंडर पेस जीवनी

◼️ क्रिकेटर मिताली राज का जीवनदर्शन 

एशियन प्रतियोगिता | Asian Competition

कर्णम मल्लेश्वरी ने प्रतियोगिता में भाग लेकर Weight lifter में हासिल किए गए Medal की जानकारी 

Asian competition


विश्व-स्तरीय प्रतियोगिता | World-class competition


कर्णम मल्लेश्वरी ने प्रतियोगिता में भाग लेकर Weight lifter में हासिल किए गए Medal की जानकारी 

World-Class competition

◼️ वीरेंद्र सिंग जीवन  

◼️ झूलन गोस्वामी की जीवनी 

सन 1995 में मल्लेश्वरीने World Weight lifter championship में 54 किलो वजन गट क्लीन एंड जर्क में 113 किलो वजन उठाके Gold Medal हासिल किया और नया record बनाया। चीन के कॉंग यूलिंग ने डिसेंबर1993 में 112.5किलो वजन उठाके बनाया हुवा record कर्णम मल्लेश्वरी ने तोड़ दिया।


सिडनी ऑलिम्पिक 2000 | Sydney Olympics 2000


कर्णम मल्लेश्वरी ने सन 2000 में सिडनी ( ऑस्ट्रेलिया ) ओलिम्पिक में Weight lifter प्रयतियोगिता में 69 किलो वजन गट में भाग लेकर Bronze Medal हासिल किया। 

इस प्रतियोगिता में स्नैच में 110 किलो , क्लीन और जर्क में 130 किलो याने की कुल 240 किलो वजन उठाके Bronze Medal हासिल किया। 

116 साल में भारतीय Olympic के इतिहास में First Medal हासिल करनेवाली कर्णम मल्लेश्वरी है। 

पुरस्कार | Award

➤सन 1994 में ” अर्जुन ” पुरस्कार 

➤सन 1996 में राजीव गाँधी ” खेलरत्न ” पुरस्कार 

➤सन 1999 में नगरी पुरस्कार ” पद्मश्री ” 

यह भी जरुर पढ़े  

◼️ केंद्र सरकार पुलिस विभाग की जानकारी 

◼️ महाराष्ट्र पुलिस विभाग की जानकारी 

◼️ जून, माह की दिनविशेष जानकारी 

◼️ अप्रेल, माह की दिनविशेष जानकारी 

◼️ मई, माह की दिनविशेष जानकारी

◼️ महाराष्ट्र पुलिस भर्ती पाठ्यक्रम जानकारी   

◼️ एथलेनटिक्स खिलाडियों की जानकारी

◼️ पीटी.उषा की जानकारी 

◼️ खेल कूद की जानकारी

◼️ महात्मा गाँधी तंटामुक्त योजना जानकारी  

◼️ जुलाई माह की दिनविशेष जानकारी 

◼️ भारत्तोलक कर्णम मल्लेश्वरी की जीवनी  

◼️ निशानेबाज राज्यवर्धन सिंग राठोर जिवनी 

◼️ वीरेंद्र सिंग जीवन 

◼️ मुष्टियोधा एम.सी मेरिकोम जीवनदर्शन 

◼️ भारतीय नेमबाज गगन सारंग जीवनदर्शन 

◼️ भारतीय नेमाज खिलाडी अभिनव बिंद्रा जीवनी 

◼️ भारतीय बैडमिन्टन पटु सायना नेहवाल 

◼️ टेनिस खिलाडी लिएंडर पेस जीवनी

◼️ झूलन गोस्वामी की जीवनी

◼️ पुलिस भरती की जान

Leave a Reply

error: Content is protected !!